Hindi Newsलाइफस्टाइल न्यूज़हेल्थside effects of eating stale food baasi khana khane ke nuksan eating leftover food can cause food poisoning diarrhea

बासी खाना खाने वाले हो जाएं सावधान, सेहत को होते हैं ये बड़े नुकसान

Side Effects Of Eating Stale Food: बचे हुए खाने को दोबारा गर्म करके खाना आपकी सेहत को कई गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है। आइए जानते हैं भोजन पकाने के कितने घंटे के भीतर उसे खा लेना चाहिए।

Manju Mamgain लाइव हिन्दुस्तानMon, 24 June 2024 08:44 AM
हमें फॉलो करें

Side Effects Of Eating Stale Food: कई बार अपने बिजी शेड्यूल की वजह से लोग ज्यादा खाना बनाकर फ्रिज में स्टोर करके रख लेते हैं। ताकि बार-बार खाना पकाने में उनका समय न खराब हो। ऐसा ज्यादातर वर्किंग लोगों के साथ होता है। रात का समय बचाने के लिए वो सुबह ही थोड़ी ज्यादा सब्जी बनाकर फ्रिज में स्टोर करके रख लेते हैं। हालांकि ये कहानी सिर्फ वर्किंग लोगों की ही नहीं है, कई बार जरूरत से ज्यादा खाना ऑर्डर करने पर जब खाना बच जाता है तो उसे महिलाएं फ्रिज में रख देते हैं और अगले दिन उसे गर्म करके लंच या डिनर में परिवार को परोस देती हैं। वजह चाहे कुछ भी हो, पर बचे हुए खाने को दोबारा गर्म करके खाना आपकी सेहत को कई गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है।

बासी खाना खाने के नुकसान-

फूड पॉइजनिंग-

बासी खाना खाने से व्यक्ति को सबसे ज्यादा फूड पॉइजनिंग का खतरा बना रहता है। खाना पकने के 2 घंटे के भीतर अगर इसे फ्रिज में न रखा जाए, तो उसमें कई बैक्टीरिया और फंगस पनपने लगते हैं। जिसकी वजह से शरीर में विषाक्त पदार्थ की मात्रा बढ़ जाती है। ऐसा खाना खाने से फूड पॉइजनिंग की शिकायत हो सकती है। जिसमें खासतौर पर, बासी चावल और आलू सबसे ज्यादा फूड पॉइजनिंग की संभावना पैदा करते हैं।

पाचन संबंधी समस्याएं-

बासी भोजन में मौजूद बैक्टीरिया व्यक्ति के लिए पाचन संबंधी समस्याओं का कारण बन सकते हैं। ये बैक्टीरिया पाचन क्रिया को प्रभावित करके पेट दर्द, कब्ज और एसिडिटी की समस्या पैदा करते हैं। ऐसे में जिन लोगों का पाचन पहले से ही कमजोर है, उन लोगों को भूलकर भी बासी भोजन का सेवन नहीं करना चाहिए। ऐसा करने से उन्हें पेट में इंफेक्शन की शिकायत हो सकती है।

डायरिया-

फूड पॉइजनिंग अगर बहुत ज्यादा बढ़ जाए तो उल्टी के साथ-साथ पेट में तेज दर्द होने लगता है जिससे शरीर में डिहाइड्रेशन की दिक्कत होने लगती है और डायरिया की शिकायत भी हो सकती है।

पोषण तत्वों की कमी-

भोजन को बार-बार गर्म करने से उसमें मौजूद विटामिंस और मिनरल्स जैसे पोषक तत्व नष्ट हो जाते हैं। ऐसे भोजन को खाने से शरीर को पर्याप्त पोषण नहीं मिल पाता है। ऐसे भोजन में मौजूद बैक्टीरिया की वजह से शरीर में कई तरह की समस्याएं होने लगती हैं।

कितने घंटे के भीतर खा लेना चाहिए पका ?

एक्सपर्ट की मानें तो, भोजन बनने के तुरंत बाद खा लेना सबसे अच्छा रहता है। अगर आपके पास भोजन तुरंत खाने का समय ना हो तो उसे पकने के 2 के अंदर ही खा लेना चाहिए। ध्यान रखें, 8 घंटे बाद पका हुआ भोजन खाने योग्य नहीं रहता है।

लेटेस्ट   Hindi News,  लोकसभा चुनाव 2024,  बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें