Hindi Newsलाइफस्टाइल न्यूज़हेल्थhow to protect yourself from heatstroke what to eat what not

बढ़े तापमान में क्या खाना बन सकता है मुसीबत, जानें कैसे हो बचाव

  • बढ़ती गर्मी यानी लू लगने की ज्यादा आशंका। अब गर्मी की वजह से घर से बाहर निकलना तो बंद नहीं किया जा सकता, पर खानपान में जरूरी बदलाव लाकर लू लगने की आशंका को जरूर कम किया जा सकता है। लू से बचने के लिए अपने खानपान में किन खाद्य पदार्थों को शामिल करें, बता रही हैं शमीम खान

heatstroke
Kajal Sharma हिंदुस्तानFri, 7 June 2024 05:50 PM
हमें फॉलो करें

गर्मी का मौसम है, तो पसीना तो बहेगा ही। पर, जब औसत तापमान देश के अधिकांश राज्यों में 45 पार हो जाए तो यह गर्मी जानलेवा साबित होने लगती है। अगर सेहत के मामले में इस मौसम में सतर्कता ना बरती जाए तो हीट स्ट्रोक या लू लगने की समस्या होना बेहद आम है। लू लगने पर सिरदर्द, चिड़चिड़ापन, लूज मोशन, तेज बुखार और जी मिचलाना जैसी समस्याएं हो सकती हैं। समस्या गंभीर होने पर जानलेवा भी साबित हो सकती है। ऐसे में हीट स्ट्रोक से बचने और शरीर को ठंडा व तरोताजा रखने के लिए खानपान में बदलाव लाना बहुत जरूरी है। गर्मियों में हमारे शरीर को काम करने के लिए उष्मा की आवश्यकता भी काफी कम होती है, इसलिए इस मौसम में हमें ऐसी चीजें खाएं, जिनकी तासीर ठंडी हो।

क्या है हीट स्ट्रोक?

मानव शरीर का अपने तापमान को नियंत्रित करने का अपना तंत्र होता है, लेकिन जब यह तंत्र ठीक प्रकार से काम नहीं करता, तो शरीर के भीतर तापमान का यह असंतुलन हीट स्ट्रोक के रूप में सामने आता है। हीट स्ट्रोक एक गंभीर चिकित्सीय अवस्था है, जिसमें शरीर का तापमान खतरनाक स्तर तक बढ़ जाता है। शरीर का तापमान दो कारणों से बढ़ सकता है। पहला, लगातार अत्यधिक तापमान में रहना। दूसरा, शरीर के द्वारा पर्याप्त मात्रा में ऊष्मा बाहर नहीं निकाल पाना, जिससे शरीर का तापमान बढ़ जाता है। यह गंभीर स्वास्थ्य समस्या नहीं है, समय रहते चेत जाएं।

खाना रखेगा शरीर को ठंडा

तापमान में वृद्धि होने पर हमें ऐसे ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करना चाहिए, जो शरीर को ठंडा रखे। गर्मियों में अपनी डाइट में ठंडी तासीर वाले खाद्य पदार्थों को शामिल करने से ना सिर्फ शरीर भीतर से ठंडा रहता है बल्कि आप तरोताजा भी महसूस करेंगी। इनमें मौजूद विटामिन्स और मिनरल्स शरीर को जरूरी पोषण भी प्रदान करते हैं। कौन से खाद्य पदार्थ लू से बचने में करेंगे मदद, आइए जानें:

• खीरा: खीरा उन खाद्य पदार्थों की सूची में सबसे ऊपर है, जो शरीर के तापमान को संतुलित रखता है। इसमें पानी काफी अधिक मात्रा में होता है। इसके अलावा, इसमें विटामिन्स और मिनरल्स जैसे पोटैशियम और मैग्नेशियम भी होते हैं, जो इलेक्ट्रोलाइट्स का संतुलन बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं।

• तरबूज: तरबूज को एक र्कूंलग फूड माना जाता है। इसमें जल की मात्रा 90 प्रतिशत तक होती है, जिससे शरीर में जल का सामान्य स्तर बनाए रखने में सहायता मिलती है। इसमें विटामिन-ए और सी भी होता है, जो एंटीऑक्डेंट्स की तरह काम करते हैं और झुलसा देने वाली गर्मी में ऊर्जा के स्तर को कम नहीं होने देते।

• दही: शरीर के तापमान को नियंत्रित रखने के लिए पाचन तंत्र का ठीक तरह से काम करना जरूरी है और सेहतमंद पाचन तंत्र के लिए दही बहुत अच्छा माना जाता है। दही एक प्रोबायोटिक फूड है, जो आंतों को स्वस्थ्य रखने और मेटाबॉलिज्म को दुरुस्त रखने के लिए बहुत अच्छा है।

• नारियल पानी: नारियल पानी शरीर के तापमान को तुरंत कम करता है। इसमें पोटैशियम और मैग्नेशियम जैसे मिनरल्स भी काफी मात्रा में होते हैं। गर्मियों में पसीना निकलने से मिनरल्स की जो हानि होती है, नारियल पानी का सेवन उसकी भरपाई कर देता है। यह शरीर में डिहाइड्रेशन के कारण जल के स्तर में आई कमी की भी भरपाई करता है।

• नीबू: नीबू पानी का सेवन न केवल शरीर के तापमान को कम करता है बल्कि प्यास भी बुझाता है। नीबू का रस पाचन में सहायता करता है और शरीर से विषैले पदार्थों को बाहर निकालता है। नीबू में कई विटामिन्स और मिनरल्स होते हैं, जो शरीर को पोषण प्रदान करते हैं।

• हरी पत्तेदार सब्जियां: पालक और दूसरी हरी पत्तेदार सब्जियां ने केवल मिनरल्स और विटामिन्स का अच्छा स्रोत हैंबल्कि इन्हें र्कूंलग फूड्स भी माना जाता है। ये फाइबर से भरपूर होती हैं। फाइबर पाचन तंत्र को दुरुस्त रखता है और शरीर के तापमान को नियंत्रित करने में सहायता करता है।

• सौंफ: सौंफ को एक नैचुरल कूलेंट माना जाता है, जो शरीर का ताप कम करने में सहायता करता है। आप इसे खाना खाने के बाद खा सकती हैं, जिससे पाचन में सहायता मिलती है। सौंफ वाला पानी पीना भी सेहत के लिहाज से अच्छा रहता है।

• छाछ: गर्मियों में छाछ का सेवन बहुत फायदेमंद है। प्रोबायोटिक्स, विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर र्ये ंड्रक न केवल शरीर को उसका सामान्य तापमान फिर से पाने में सहायता करता है बल्कि शरीर में जल के स्तर को भी नियंत्रित करता है। नियमित रूप से छाछ का सेवन करने से मेटाबॉलिज्म दुरूस्त रहता है, पाचन तंत्र बेहतर काम करता है और शरीर ठंडा रहता है।

• पुदीना: पुदीना शरीर के तापमान को कम करने वाले सबसे अच्छे खाद्य पदार्थों में से एक माना जाता है। पुदीना पाचन में सहायता करता है और शरीर को ठंडक प्रदान करता है। यह शरीर से विषैले पदार्थों को निकालकर उसे डिटॉक्सीफाई करता है।

लू लगने पर ये न खाएं

• लू लगने पर गर्म तासीर की चीजों के सेवन से परहेज करना चाहिए। • चाय-कॉफी का सेवन बिल्कुल न करें। इससे डिहाइड्रेशन की समस्या गंभीर हो सकती है। • सोडा या कार्बोनेटेड पेय का सेवन भी न करें। • तले-भुने और मसालेदार चीजों के सेवन से भी परहेज करें क्योंकि इनसे भी शरीर का तापमान बढ़ता है। • अधिक मात्रा में चीनी का सेवन भी न करें।

(र्मैंरगो एशिया हॉस्पिटल, फरीदाबाद में डाइटीशियन डॉ. अलका चौधरी से बातचीत पर आधारित)

लेटेस्ट   Hindi News,  लोकसभा चुनाव 2024,  बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें