फोटो गैलरी

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ लाइफस्टाइल खानाJanmashtami Panjiri Recipe: माखन ही नहीं धनिया पंजीरी के बिना भी अधूरी है कान्हा के प्रसाद का थाली, नोट करें बनाने का तरीका

Janmashtami Panjiri Recipe: माखन ही नहीं धनिया पंजीरी के बिना भी अधूरी है कान्हा के प्रसाद का थाली, नोट करें बनाने का तरीका

Janmashtami 2022: क्या आप जानते हैं भगवान श्री कृष्ण को माखन के अलावा धनिया पंजीरी का प्रसाद भी बहुत प्रिय है। इस साल कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार 18 अगस्त को मनाया जाएगा। हिंदू पंचांग के अनुसार भाद्रप

Janmashtami Panjiri Recipe: माखन ही नहीं धनिया पंजीरी के बिना भी अधूरी है कान्हा के प्रसाद का थाली, नोट करें बनाने का तरीका
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 19 Aug 2022 08:32 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

Janmashtami Panjiri Recipe: भगवान श्रीकृष्ण के माखन प्रेम के बारे में तो सभी जानते हैं। नन्हे से कान्हा जब अपने घुटनों के बल चला करते थे तब भी वो माता यशोदा और गोपियों का बनाया हुआ मक्खन चट कर जाया करते थे। उनके इस माखन प्रेम को देखते हुए हर साल जन्माष्टमी पर कान्हा भक्त उन्हें माखन मिश्री का भोग लगाते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं भगवान श्री कृष्ण को माखन के अलावा धनिया पंजीरी का प्रसाद भी बहुत प्रिय है। इस साल कृष्ण जन्माष्टमी का त्योहार 18 अगस्त को मनाया जाएगा। हिंदू पंचांग के अनुसार भाद्रपद मास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को कृष्ण जन्माष्टमी मनाई जाती है। तो ऐसे में आइए जानते हैं कैसे बनाया जाता है पूजा के लिए धनिया पंजीरी का प्रसाद।

धनिया पंजीरी बनाने की सामग्री-
-धनिया पाउडर- 1 कप
-घी- 3 बड़े चम्मच
-मखाने- 1/2 कप (कटे हुए)
-चीनी पाउडर- 1/2 कप
-कद्दूकस नारियल- 1/2 कप
-ड्राई फ्रूट- 1/2 छोटी कटोरी (कटे हुए)
-चिरौंजी दाना- 1 बड़ा चम्मच
-चार मगज/खरबूजे के बीज- 3 बड़े चम्मच (छिले हुए)

धनिया पंजीरी बनाने की विधि-
धनिया पंजीरी बनाने के लिए सबसे पहले एक पैन में 2 बड़े चम्मच घी गर्म करें। अब इसमें धनिया पाउडर डालकर 4-5 मिनट तक भूनकर एक बाउल में निकाल लें। पैन में बचा घी डालकर मखाने 2-3 मिनट तक लगातार चलाते हुए भूनें। धीमी आंच करके इसमें ड्राई फ्रूट्स, चिरौंजी दाना, मगज, चीनी, नारियल का बूरा और धनिया पाउडर डालकर मिलाएं। तैयार पंजीरी को सर्विंग बाउल में निकालकर कान्हा जी को भोग लगाकर प्रसाद के तौर पर खाएं।

यह भी पढ़ें : आपके बालों के लिए भी जादू कर सकता है ये गोल्डन मसाला, जानिए कैसे करना है इस्तेमाल

epaper