फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल फिटनेसवेट लॉस से जुड़ी ये 5 गलतियां नहीं कम होने देती मोटापा, न्यूट्रिशनिस्ट ने दी सलाह

वेट लॉस से जुड़ी ये 5 गलतियां नहीं कम होने देती मोटापा, न्यूट्रिशनिस्ट ने दी सलाह

Weight Loss Mistakes: डाइट से लेकर तरह-तरह की एक्सरसाइज फॉलो करने के बाद भी वजन हो या मोटापा दोनों में से कुछ कम नहीं होता है। जिसके पीछे आपकी जीवनशैली की कुछ आदतें जिम्मेदार हो सकती हैं।

वेट लॉस से जुड़ी ये 5 गलतियां नहीं कम होने देती मोटापा, न्यूट्रिशनिस्ट ने दी सलाह
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 23 Feb 2024 04:24 PM
ऐप पर पढ़ें

Common Weight Loss Mistakes: टोन्ड फिट बॉडी ना सिर्फ व्यक्ति का आत्मविश्वास बनाए रखती है बल्कि उसे कई बड़े रोगों के खतरे से भी दूर रखने में मदद करती है। आज बढ़ता वजन ज्यादातर लोगों के लिए एक बड़ी समस्या बन गया है। जिससे छुटकारा पाने के लिए वो डाइटिंग से लेकर घंटों जिम और योगा करने से भी परहेज नहीं करते हैं। बावजूद इसके कई बार मोटापे की समस्या जस की तस बनी रहती है। डाइट से लेकर तरह-तरह की एक्सरसाइज फॉलो करने के बाद भी वजन हो या मोटापा दोनों में से कुछ कम नहीं होता है। जिसके पीछे आपकी जीवनशैली की कुछ आदतें जिम्मेदार हो सकती हैं। जी हां, कई बार अनजाने में व्यक्ति ऐसी कई गलतियां कर बैठता है, जो उनकी वेट लॉस जर्नी को धीमा बना देती हैं।

अपर्याप्त प्रोटीन का सेवन-
डाइट में प्रोटीन की कमी ना सिर्फ मांसपेशियों की सेहत को खतरे में डालती है बल्कि आपकी वेट लॉस जर्नी में भी बाधा बन सकती है। जिसकी वजह से व्यक्ति को स्नैक खाने की क्रेविंग बढ़ जाती है। जिससे वजन बढ़ने लगता है।

स्वास्थ्य समस्याएं-
हाइपोथायरायडिज्म,विटामिन डी या बी 12 की कमी जैसी कुछ स्वास्थ्य समस्याएं वेट लॉस के प्रयासों में बाधा डाल सकती हैं। ऐसे में अपने वेट लॉस मिशन को पूरा करने के लिए शरीर में इन विटामिन की कमी को पूरा करने के लिए रूटिन टेस्ट करवाकर अपने डॉक्टर से सलाह लेकर इलाज करवाएं। 

प्रोसेस्ड फूड-
प्रोसेस्ड फूड में कैलोरी की अधिकता और पोषक तत्वों की कमी होती है। फास्ट फूड,जंक फूड,पैकेटबंद चीजें,मीठी चीजें,तली-भुनी चीजें खाने से व्यक्ति का वजन बढ़ता है। हालांकि अधिकांश लोगों को यह पता होता है कि इन फूड से मोटापा बढ़ता है,बावजूद इसके वे इन चीजों से परहेज नहीं कर पाते हैं और उनका वजन बढ़ता रहता है। 

पर्याप्त नींद ना लेना-अपर्याप्त नींद की वजह से घ्रेलिन और लेप्टिन सहित इन हार्मोनों का संतुलन गड़बड़ा सकता है, जो आपकी भूख को नियंत्रित रखने के लिए जरूरी है। इस व्यवधान से भूख की भावना बढ़ सकती है। जिससे व्यक्ति में और अधिक खाने की इच्छा बढ़ सकती है। जिससे व्यक्ति अधिक कैलोरी का सेवन करने लगता है। जो वजन बढ़ने का एक और कारण है। ऐसे में अगर आप पहले से ही वजन घटान की कोशिश कर रहे हों तो अपनी नींद से समझौता न करें।

स्लो मेटाबोलिज्म- 
मेटाबोलिज्म स्लो होने से शरीर सुस्त हो जाता है। जिन लोगों का मेटाबॉलिज्म सुस्त होता है,उनका वजन भी बढ़ने लगता है और डाइजेशन से जुड़ी समस्याएं व्यक्ति को परेशान करने लगती हैं। अनहेल्दी डाइट, फिजिकल एक्टिविटी का कम होना, स्ट्रेस, नींद की कमी और भी कई ऐसी चीजें हैं,जिनके चलते मेटाबॉलिज्म सुस्त होता है। ऐसे में वेट लॉस रिजल्ट जल्दी चाहते हैं तो पहले अपने मेटाबॉलिज्म को हेल्दी बनाए रखें। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें