फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News लाइफस्टाइल फिटनेसगर्मियों में सेहत के लिए वरदान है बुरांश का जूस, भाग्यश्री ने बताएं पहाड़ी फूल के हेल्थ बेनिफिट्स

गर्मियों में सेहत के लिए वरदान है बुरांश का जूस, भाग्यश्री ने बताएं पहाड़ी फूल के हेल्थ बेनिफिट्स

Health Benefits Of Buransh Flower: आयुर्वेद में तो बुरांश के फूल को जादुई फूल माना जाता है। बॉलीवुड एक्ट्रेस भाग्यश्री ने उत्तराखंड के पहाड़ों पर उगने वाले इस लाल बुरांश के फूल के फायदे बताने के साथ

गर्मियों में सेहत के लिए वरदान है बुरांश का जूस, भाग्यश्री ने बताएं पहाड़ी फूल के हेल्थ बेनिफिट्स
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीFri, 03 May 2024 05:35 PM
ऐप पर पढ़ें

Buransh Flower Benefits: गर्मियां शुरू होते ही बॉडी को हाइड्रेट रखने और शरीर को ठंडक पहुंचाने के लिए लोग कई तरह के ड्रिंक्स अपनी डाइट में शामिल करते हैं। लेकिन आज आपको एक ऐसी पहाड़ी ड्रिंक के बारे में बताएंगे, जो खास उत्तराखंड के पहाड़ों पर उगने वाले लाल फूल से तैयार की जाती है। जी हां, उत्तराखंड में उगने वाले इस लाल फूल का नाम है बुरांश। औषधीय गुणों से भरपूर बुरांश पोषक तत्वों का खजाना है। कुछ शोध बताते हैं कि बुरांश के फूल में एंटी डायबटिक, एंटी इंफ्लामेटरी और एंटी बैक्‍टीरियल गुण मौजूद होते हैं। जो सेहत को कई गजब के फायदे पहुंचाते हैं। यही वजह है कि आयुर्वेद में तो बुरांश के फूल को जादुई फूल माना जाता है। बॉलीवुड एक्ट्रेस भाग्यश्री ने उत्तराखंड के पहाड़ों पर उगने वाले इस लाल बुरांश के फूल के फायदे बताने के साथ इसकी रेसिपी भी शेयर की है।  

पहाड़ी फूल बुरांश के हेल्थ बेनिफिट्स-

आयरन की कमी करें दूर-
भारत में ज्यादातर महिलाएं आयरन की कमी से परेशान रहती हैं। बुरांश के फूलों में आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। ऐसे में बुरांश का सेवन करने से शरीर में खून की कमी को पूरा किया जा सकता है। बुरांश का फूल शरीर में हीमोग्लोबिन का लेवल बढ़ाकर एनीमिया रोग से छुटकारा देता है।

जलन से राहत-
कई बार ऑयली या जंक फूड खाने से गले या पेट में जलन होने लगती है। ऐसे में बुरांश के फूलों से बना जूस इस तरह की जलन से राहत देने में मदद कर सकता है। 

डायबिटीज में असरदार-
बुरांश में एंटी-हिपेरग्लिसेमिक गुण पाया जाता है। जो शुगर लेवल को कंट्रोल करने का काम करता है। डायबिटीज रोगियों को बुरांश के फूलों का जूस पीने से फायदा होता है। 

एंटी इंफ्लामेटरी गुणों से भरपूर बुरांश-
आयुर्वेदिक और होम्योपैथिक दवाओं में इंफ्लमेशन, गाउट, ब्रोंकाइटिस और गठिया के इलाज के लिए बुरांश के फूल और पत्तियों का उपयोग किया है। इसकी पत्तियां को इंफ्लमेशन संबंधी बीमारियों से राहत देने के लिए फायदेमंद माना जाता है। 

सिरदर्द और पेट दर्द में भी फायदेमंद- 
रोडोडेंड्रोन या बुरांश की पत्तियों का उपयोग आमतौर पर सिरदर्द के इलाज के लिए किया जाता है। सिर दर्द से राहत के पाने के लिए माथे पर बुराशं की पत्तियों से बना पेस्ट लगाएं। इसके अलावा बुरांश घाव और त्वचा की सूजन को भी कम करने में मदद करता है।  बुरांश के फूल से बने जूस का सेवन गर्मियों में डिहाइड्रेशन से बचने और ठंडक पाने के लिए भी किया जाता है।

कैसे बनाएं बुरांश का जूस? 
शुगर फ्री बुरांश का जूस बनाने के लिए सबसे पहले बुरांश के फूलों को अच्छी तरह धोकर उन्हें पानी में भिगोकर कुछ देर के लिए रख दें। इसके बाद एक बर्तन में पानी गर्म करने के लिए रख दें। इस पाने में बुरांश के फूल डालकर धीमी आंच पर लगभग 202 मिनट तक पकाएं। जब पानी का रंग गुलाबी होने के साथ आधा रह जाए तो आंच बंद करके पानी को छानकर ठंडा होने के लिए रख दें। इसके बाद इस मिक्सचर का कुछ हिस्सा गिलास में भरकर फिर ठंडा पानी डालें। आखिर में इस जूस का स्वाद बढ़ाने के लिए आप इसे चीनी या शहद के साथ मिलाकर पी सकते हैं।