फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल फिटनेसगर्दन की अकड़न और दर्द से राहत देंगे ये 2 योगासन, ऐसे करें अभ्यास

गर्दन की अकड़न और दर्द से राहत देंगे ये 2 योगासन, ऐसे करें अभ्यास

Yoga Poses To Relieve Neck Stiffness And Pain: गर्दन के दर्द के लिए दवा लेना जरूरी नहीं होता है। आप इसे घर पर ही कुछ योगा अभ्यास करके दूर कर सकते हैं। आइए जानते हैं आखिर कौन से दो योगासन गर्दन के दर्द

गर्दन की अकड़न और दर्द से राहत देंगे ये 2 योगासन, ऐसे करें अभ्यास
Manju Mamgainलाइव हिन्दुस्तान टीम,नई दिल्लीMon, 12 Feb 2024 03:53 PM
ऐप पर पढ़ें

Yoga Poses To Relieve Neck Stiffness And Pain: ऑफिस में घंटों एक ही जगह बैठकर काम करने से कई बार गर्दन में दर्द और अकड़न महसूस होने लगती है। गर्दन में होने वाले इस दर्द का उपचार अगर समय रहते ना किया जाए तो यह ना सिर्फ रोजमर्रा के काम में रूकावट पैदा करता है बल्कि सेहत से जुड़ी कई समस्याएं भी पैदा करने लगता है। अक्सर लोग दर्द से राहत पाने के लिए दवाओं का सहारा लेते हैं लेकिन गर्दन के दर्द के लिए दवा लेना जरूरी नहीं होता है। आप इसे घर पर ही कुछ योगा अभ्यास करके दूर कर सकते हैं। आइए जानते हैं आखिर कौन से दो योगासन गर्दन के दर्द से राहत दिला सकते हैं। 

गर्दन की अकड़न और दर्द से राहत देंगे ये 2 योगासन-

चक्रवाकासन-
चक्रवाकासन योग करने से शरीर को कई लाभ मिलते हैं। इस योग मुद्रा का अभ्यास करने से पीठ और कमर की मांसपेशियों को आराम मिलता है। साथ ही लंबे समय तक बैठे रहने के कारण व्यक्ति को जो अकड़न और परेशानी महसूस होती है, उससे भी निजात मिल सकता है। इस योगासन का नियमित अभ्यास कमर और गर्दन के दर्द से छुटकारा दिला सकता है। 

चक्रवाकासन करने का तरीका-

चक्रवाकासन करने के लिए आप सबसे पहले योगा मैट पर गाय की तरह अपने दोनों हाथों और पैरों के सहारे आ जाएं। अब अपने कंधों को अपनी कलाई के नीचे और कूल्हों को घुटनों के नीचे रखने की कोशश करें। ध्यान रखें, ऐसा करते समय आपका शरीर एक टेबल टॉप स्थिति में होना चाहिए। इस दौरान अपने पैर की उंगलियां अंदर और गर्दन लंबी रखने की कोशिश करें। अब गहरी सांस लें और पेल्विस को पीछे की ओर झुकाएं ताकि आपकी टेलबोन ऊपर उठी रहे।अपने पेट की मांसपेशियों को अंदर की तरफ खींचने की कोशिश करें ताकि रीढ़ की हड्डियां आपस में मिल सके। अब अपनी गेज को धीरे-धीरे ऊपर की ओर ले जाएं और अपनी पीठ को फर्श की ओर मोड़ें। अपनी टेलबोन को झुकाएं और ऊपर की ओर देखें और गहरी सांस लें। इसी अवस्था में 1 मिनट तक रहने का प्रयास करें। फिर धीरे-धीरे वापस पहले वाली मुद्रा में आ जाएं। 

उत्थिता त्रिकोणासन-

उत्थिता त्रिकोणासन आपके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य दोनों को लाभ पहुंचा सकता है। उत्थिता त्रिकोणासन करने से पैरों,जांघों और टखनों में खिचाव महसूस होता है, जिससे वो मजबूत बनाते हैं। उत्थिता त्रिकोणासन करने से तनाव से भी छुटकारा मिलता है।

उत्थिता त्रिकोणासन करने का सही तरीका-
उत्थिता त्रिकोणासन करने के लिए सबसे पहले अपने पैरों को चौड़ा रखें और अपने अगले पैर को आगे की ओर और अपने पिछले पैर को सीधा रखें। अपने आप को संतुलित रखते हुए, अपने बाएं हाथ को अपने सामने वाले पैर पर लाएं। अब अपने सिर को घुमाएं ताकि आपका दाहिना हाथ छत की ओर ऊपर हो। ऐसा करते हुए यह सुनिश्चित करें कि आप अपने हाथ की ओर देखें। अब कई बार गहरी सांसें लें और मुद्रा बनाए रखते हुए अपना संतुलन बनाए रखें।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें