फोटो गैलरी

Hindi News लाइफस्टाइल फिटनेसआयुर्वेद: आंखों की देखभाल के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके, खत्म हो जाएंगी आई प्रॉब्लम

आयुर्वेद: आंखों की देखभाल के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके, खत्म हो जाएंगी आई प्रॉब्लम

Ayurvedic Tips For Eye Care: हमारे शरीर के सभी अंगों की तरह आंखे सबसे जरूरी हिस्सा है। हालांकि, आंखों से जुड़ी तमाम समस्याओं से लोग परेशान हो रहे हैं। जिससे निपटने के बारे में एक्सपर्ट ने बताया है।

आयुर्वेद: आंखों की देखभाल के लिए अपनाएं ये आयुर्वेदिक तरीके, खत्म हो जाएंगी आई प्रॉब्लम
Avantika Jainलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीFri, 23 Feb 2024 11:25 AM
ऐप पर पढ़ें

आंखें हमारे शरीर के नाजुक और सबसे जरूरी हिस्सों में आती है। ऐसे में इनकी देखभाल अच्छे से करनी चाहिए। रोजाना की कुछ आदतों के चलते आंखों को काफी नुकसान होता है। कुछ लोगों को आंखों से पानी आना, दर्द, जलन, कम दिखना, कुछ देखने के लिए आंखों पर बहुत जोर डालना, सिरदर्द जैसी समस्या होती हैं। ऐसे में इन सभी लक्षणों से बचनें और आंखों की रोशनी बढ़ाने के लिए डॉक्टर दीक्षा भावसार द्वारा बताए गए तरीकों को अपना सकती हैं।

आंखों की रोशनी बढ़ाने और समस्याओं से निपटने के तरीके- 

1) अपनी आंखों में गुलाब जल डालें। इससे डालने पर जलन से राहत मिलती है और आंखों को आराम भी मिलता है।

2) गाय का घी खाएं, साथ ही इसे आंखों में डालना या नाक में डालना स्वास्थ्य के लिए अच्छा माना जाता है।

3) सेहत के लिए त्रिफला अद्भुत जड़ी बूटी है। ये आंखों के लिए भी फायदेमंद है। आंख धोने के लिए या इसका घी के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। इसके लिए एक चम्मच त्रिफला चूर्ण को रात भर 1 गिलास पानी में भिगो दें। सुबह इसे 21 बार मोड़कर बारीक कपड़े या कॉफी फिल्टर से छान लें। ध्यान दें कि त्रिफला का कोई भी कण पानी में न रहे। एक बार जब यह छान लें तो आप इस पानी से अपनी आंखें धो सकते हैं।

4) अंजना भी एक जड़ी बूटी है। आयुर्वेद अंजना को 'द्रिकबलम' यानी आंखों की रोशनी बढ़ाने वाला मानता है।

5) रिफ्लेक्सोलॉजी विज्ञान के अनुसार जब हम चलते हैं तो सबसे ज्यादा दबाव हमारी दूसरी और तीसरी उंगली पर पड़ता है। इन दोनों में सबसे ज्यादा तंत्रिका अंत होते हैं, जो आपकी आंखों के कामकरने के तरीके को उत्तेजित करते हैं और नजर में सुधार करते हैं।

6) 20-20-20 नियम
थकान और आंखों के स्ट्रेस को कम करने के लिए हर 20 मिनट में कम से कम 20 फीट दूर किसी चीज को 20 सेकंड के लिए देखें। इससे आखों का स्वास्थ्य बेहतर होता है।

7) आंखों की एक्सरसाइज
सरल तकनीकें जैसे साइड में, ऊपर और नीचे देखने वाली एक्सरसाइज करें। इसे रोजाना 10 मिनट तक आंखों को दक्षिणावर्त और वामावर्त दिशा में घुमाना फोकस और संरेखण को अनुकूलित करने में बहुत मदद करता है।

8) त्राटक एवं ध्यान करें। त्राटक का मूल रूप से मतलब है किसी विशेष वस्तु जैसे सूर्य, दीपक, आदि को कुछ दूरी से देखना। यह आंखों की मांसपेशियों को मजबूत करता है। ये नजर और यहां तक ​​कि याददाश्त में भी सुधार करता है। वहीं ध्यान आपको शांत करने और शरीर में पित्त को संतुलित करने में मदद करता है। इससे आपके आंखों की रेडनेस, जलन जैसी समस्या को रोकने में मदद मिलती है। ऐसा अच्छी नींद और मन को शांत करने में मदद करता है।

9) रोजाना बहुत देर के लिए फोन की लाइट  के संपर्क में आसे आंखे डैमेज हो सकती हैं। इसलिए अपनी स्क्रीन पर ब्लू लाइट फिल्टर चालू करें।

10) अच्छी नींद आंखों को आराम पहुंचाने में मदद करती है। इसलिए रोजाना चैन की नींद सोना काफी जरूरी है। 

आयुर्वेद: सही तरह से खाएंगे फल तो रहेंगे सेहतमंद, जानिए फ्रूट्स खाने का सही तरीका और समय

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें