Hindi Newsलाइफस्टाइल न्यूज़फिटनेसinternational yoga day 2024 must avoid these 5 yoga mistakes that cause injuries in body

International Yoga Day: गलत तरीके से किया गया योग का अभ्यास बिगाड़ देता है शरीर की सेहत

International Yoga Day 2024: योग के दौरान कुछ बातों का ध्यान रखना जरूरी है जिससे कि किसी भी तरह की चोट से बचा जा सके। जानें कौन सी वो बातें हैं जो योगाभ्यास के साथ जानना बेहद जरूरी है।

Aparajita लाइव हिन्दुस्तानWed, 19 June 2024 06:42 PM
हमें फॉलो करें

योग करना सेहत के लिए फायदेमंद है लेकिन इसका अभ्यास किसी एक्सपर्ट की देखरेख के करने की जरूरत होती है। अगर आप खुद से ही योग का अभ्यास कर रहे हैं तो जरूरी है कि सारे नियमों का पालन ठीक से करें। शरीर की क्षमता से ज्यादा अगर आप जबरदस्ती योग का अभ्यास करने की कोशिश करेंगे तो इससे बॉडी को फायदे की जगह नुकसान होने का डर रहता है। गलत योगाभ्यास से मसल्स में खिंचाव के साथ ही ये सारे नुकसान होने का डर रहता है।

शरीर के मसल्स में खिंचाव का डर

योग के दौरान मसल्स में खिंचाव किसी भी वक्त हो सकता है। लेकिन कई बार ये खिंचाव कई सालों तक लगातार गलत योगाभ्यास करने की वजह से होता है। इसलिए जरूरी है कि योग का सही तरीके अभ्यास समझा जाए और किया जाए। साथ ही क्षमता से ज्यादा स्ट्रेचिंग करने से बचा जाए। पैर के घुटनों, कलाईयों, हिप्स, कमर कहीं पर भी मसल्स में खिंचाव होने पर दर्द हो सकता है। इस दर्द से राहत के लिए अलग योगासन की मदद से इसे ठीक किया जाता है।

योग के दौरान ना करें ये गलतियां

वार्मअप

योग शुरू करने के पहले थोड़ी देर का वार्मअप जरूरी है। जिससे कि शरीर में खिंचाव बढ़ जाए और जब आप योग शुरू करें तो किसी भी तरह के मसल्स में स्ट्रेन ना हो। नेक रोल्स, शोल्डर रोल्स और कुछ ट्विस्ट करने से आपकी बॉडी योग के लिए रेडी हो जाती है।

ईगो ना दिखाएं

जबरदस्ती का जोर लगाकर किसी भी योग को करने की कोशिश ना करें। जब आप क्षमता से ज्यादा मेहनत करके योग करते हैं तो इससे चोट का खतरा सबसे ज्यादा हो जाता है।

धीरे-धीरे प्रैक्टिस करें

पहली ही बॉल पर छक्का लग जाएगा ऐसा जरूरी नहीं। योग करते समय भी इस बात का ध्यान रखें। आप एक बार में ही पूरी तरह से एक्सपर्ट नहीं पाएंगे और ना ही सही तरीके से योग कर पाएंगे। इसलिए धीरे-धीरे कोशिश करें और हर दिन कोशिश को बढा़एं। तभी योग का अभ्यास होता है और चोट लगने का डर नहीं रहता।

पोश्चर से वापस लौटते समय रखें ध्यान

जब भी योग के दौरान किसी पोश्चर में हो तो उससे वापस लौटने के नियम को पूरी तरह से फॉलो करें। कपोतासन, मंडूकासन जैसे पोज से वापस लौटते समय धीरे-धीरे बॉडी को रिलीज और रिलैक्स करें।

आखिरी में जरूर करें शवासन

योग के आखिरी में दो से तीन मिनट तक शवासन करने से बॉडी और नर्वस सिस्टम रिलैक्स होता है। इसलिए सबसे आखिर में शवासन करना ना भूलें।

लेटेस्ट   Hindi News,   बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक ,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें