Hindi Newsलाइफस्टाइल न्यूज़फिटनेसhealth tips know what happens when you work out too much side effects of over exercising on body

ओवर एक्सरसाइज शरीर को फायदा नहीं देती है नुकसान, ये होते हैं साइड इफेक्ट्स

Over Exercising Side Effects: रोजाना कुछ देर वर्कआउट के लिए निकालने से व्यक्ति ना सिर्फ एक्टिव बना रहता है बल्कि सेहतमंद भी रहता है। लेकिन कुछ लोग खुद को फिट रखने के लिए घंटों जिम में पसीना बहाते रहते हैं। ऐसा करने से उनकी सेहत को फायदा नहीं बल्कि नुकसान होता है।

Manju Mamgain लाइव हिन्दुस्तानFri, 7 June 2024 10:37 AM
हमें फॉलो करें

Over Exercising Side Effects: अगर आप खुद को फिटनेस फ्रीक मनाते हैं और एक दिन भी अपना जिम मिस नहीं करते हैं तो ये खबर आपके इंटरेस्ट की हो सकती है। जी हां, रोजाना कुछ देर वर्कआउट करने से व्यक्ति एक्टिव बने रहने के साथ सेहतमंद भी बना रहता है। लेकिन कई बार खुद को फिट और टोन्ड रखने की चाहत मन में लिए लोग घंटों जिम में पसीना बहाते रहते हैं। क्या आप जानते हैं जरूरत से ज्‍यादा एक्‍सरसाइज सेहत को फायदा नहीं बल्कि नुकसान तक पहुंचा सकती है। ऐसे लोग वर्कआउट करते समय यह बात भूल जाते हैं कि एक्‍सरसाइज बॉडी को फिट रखने के लिए की जाती है, न कि बॉडी को थकाने और नुकसान पहुंचाने के लिए। आइए जानते हैं जरूरत से ज्यादा वर्कआउट करने से सेहत को होते हैं क्या नुकसान।

मांसपेशियों में दर्द-

जरूरत से ज्यादा वर्कआउट करने से व्यक्ति की मांसपेशियों पर बुरा असर पड़ सकता है। जिसकी वजह से उसे बदन दर्द या कमजोरी महसूस होने लगती है। इतना ही नहीं ओवर वर्कआउट कई बार हड्डियों के ढ़ाचे पर भी बुरा असर डालता है। दरअसल, अत्यधिक व्यायाम से हड्डियों पर लगातार दबाव पड़ता है, जिसकी वजह से व्यक्ति को स्ट्रेस फ्रैक्चर हो सकते हैं। स्ट्रेस फ्रैक्चर बहुत छोटे-छोटे फ्रैक्चर होते हैं,जो बाद में गंभीर चोटों में बदल सकते हैं। जिसका समय पर इलाज ना होने पर ये कई अन्य समस्याओं का कारण भी बन सकते हैं।

कैल्शियम की कमी-

जरूरत से ज्यादा एक्सरसाइज करने की वजह से शरीर में कैल्शियम की कमी हो सकती है, जो हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए बेहद जरूरी होता है। जिसकी वजह से ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा भी बढ़ सकता है।

दिल से जुड़ी समस्याएं-

ओवर वर्कआउट करने से व्यक्ति का शरीर ज्यादा एनर्जी बनाने लगता है, जिसकी वजह से कई लोगों को वर्कआउट के दौरान सांस फूलने की समस्या होने लगती है। जिससे निपटने के लिए व्यक्ति का दिल शरीर को ज्यादा ऑक्सीजन सप्लाई करने लगता है, जिससे हार्ट डिजीज होने का खतरा बढ़ सकता है।

कमजोर इम्यूनिटी-

अत्यधिक व्यायाम बॉडी के इम्यून सिस्टम को भी कमजोर बना सकता है। ओवर एक्‍सरसाइज करने से शरीर में कोर्टिसोल का स्तर बढ़ जाता है, जो इम्यून सिस्टम को कमजोर बना सकता है। इम्‍यून सिस्‍टम वीक होने पर बॉडी में इंफेक्‍शन और बीमारी का खतरा बढ़ सकता है।

भूख और वजन कम होना-

आमतौर पर वर्कआउट करने के बाद व्यक्ति के तेज भूख लगती है लेकिन इसके विपरीत जरूरत से ज्‍यादा एक्‍सरसाइज करने से भूख में कमी आ सकती है। दरअसल, अधिक एक्‍सरसाइज करने से बॉडी में हार्मोनल चेंजेंज होने लगते हैं, जिसकी वजह से भूख कम हो जाती है। ओटीएस यानी ओवरट्रेनिंग सिंड्रोम भूख में कमी, थकावट और वजन कम होने का कारण बन सकता है।

एक दिन में कितनी एक्सरसाइज करना सही-

सेंटर फॉर डिजीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन के अनुसार एक हफ्ते में 150 मिनट तक वर्कआउट करना सही रहता है। इसे एक दिन में करने की जगह सप्ताह के 5 दिन में बांट देना ज्यादा फायदेमंद होता है।

लेटेस्ट   Hindi News,   बॉलीवुड न्यूज,  बिजनेस न्यूज,  टेक ,  ऑटो,  करियर ,और   राशिफल, पढ़ने के लिए Live Hindustan App डाउनलोड करें।

ऐप पर पढ़ें
Advertisement