फोटो गैलरी

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News लाइफस्टाइल फिटनेसपूर्णिमा की चांदनी में मेडिटेशन के लिए निकालें सिर्फ 15 मिनट, मिलेंगे गजब के फायदे, जानिए कैसे करें

पूर्णिमा की चांदनी में मेडिटेशन के लिए निकालें सिर्फ 15 मिनट, मिलेंगे गजब के फायदे, जानिए कैसे करें

Full Moon Meditation Benefits: फुल मून मेडिटेशन यानी पूर्णिमा ध्यान, मेडिटेशन का एक रूप है जो उपचार और विश्राम को प्रोत्साहित करने के लिए विज़ुअलाइजेशन का इस्तेमाल करता है। पूर्णिमा के दिन मेडिटेशन करने से खूब फायदे मिल सकते हैं। यहां जानिए फुल मून मेडिटेशन के फायदे और इसे कैसे करें-

पूर्णिमा की चांदनी में मेडिटेशन के लिए निकालें सिर्फ 15 मिनट, मिलेंगे गजब के फायदे, जानिए कैसे करें
Avantika Jainलाइव हिन्दुस्तान,नई दिल्लीWed, 22 May 2024 08:40 AM
ऐप पर पढ़ें

सूर्य की तरह चन्द्रमा की रोशनी भी शरीर के लिए फायदेमंद होती है। कहा जाता है कि पूर्णिमा के दिन चांद की ज्यादा रोशनी होती हैं, ऐसे में ये रोशनी मेंटल हेल्थ के साथ-साथ पूरे शरीर को फायदा पहुंचा सकती है। 23 मई के दिन बुद्ध पूर्णिमा है। इस रात को अगर आप खुद के लिए 15 मिनट निकाल लें और चांद की रोशनी में बैठ कर मेडिटेशन कर लें तो खूब फायदा हो सकता है। कुछ देर के लिए पूर्णिमां की चांदनी में समय बिताने से एंग्जायटी और स्ट्रेस से आराम मिल सकता है। इसके अलावा ये पूरे शरीर को तरोताजा करने में भी मदद करेगा। यहां जानिए पूर्णिमा की रात ध्यान लगाने के फायदे और कैसे लगाएं ध्यान-

पूर्णिमा की रात ध्यान लगाने के फायदे (Benefits Of Doing Meditation on Purnima Night)

- पूर्णिमा पर लगाए गए ध्यान से आपको अपने आंतरिक ज्ञान तक पहुंचने में मदद मिलेगी। जिससे आपको जीवन में मार्गदर्शन और स्पष्टता मिलेगी।

- जैसे चंद्रमा रात के आकाश को रोशन करता है, वैसे ही यह आपके रचनात्मक विचारों को रोशन कर सकता है। इस ध्यान से आपको कोई भी नई परियोजना या रचनात्मक प्रयास करने के लिए मेटिवेशन मिल सकती है।

- पूर्णिमा का दिन भावनात्मक रुकावट को दूर करने का जरूरी समय है जो आपको अपनी इच्छानुसार जीने से रोक सकता है। दरअसल, चांद की शक्तिशाली एनर्जी आपको आगे बढ़ने से रोकने वाली किसी भी नकारात्मक भावना को दूर कर देती है।

- इस दिन ध्यान करके आप अपने विचारों, भावनाओं और संवेदनाओं के प्रति ज्यादा जागरूक हो सकते हैं। इस ध्यान को करने से आप अपने काम और निर्णय लेने के प्रति ज्यादा जागरूक हो जाते है।

- सोने से पहले पूर्णिमा का ध्यान करने से नींद की क्वालिटी बेहतर होती है और आप रिलैक्स कर सकते हैं। चांद की एनर्जी का शांत प्रभाव होता है, जो व्यक्तियों को आराम करने और तनाव कम करने में मदद कर सकता है। ये ध्यान शांतिपूर्ण और आरामदायक नींद को बढ़ावा देता है।

कैसे करें फुल मून मेडिटेशन (How to do Meditation on Purnima Night)

इसे करने के लिए एक आरामदायक जगह चुनें।

जमीन पर आसन लगाएं और बैठ जाएं।

अब आंखे बंद करने से पहले इस पर विचार करें कि आप अपने ध्यान के दौरान क्या हासिल करना चाहते हैं।

पीठ सीधी रखें और आंखों को बंद करें।

ध्यान लगाना शुरू करें।

यहां देखें कैसे करें मेडिटेशन

डिस्क्लेमर: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीकों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें। इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या एक्सपर्ट से सलाह लें।