बालों को साबुन से धोना कितना सही, कहीं गंजेपन को तो नहीं दे रहे दावत

  • कुछ लोगों की आदत होती है कि वो नहाने वाले साबुन से ही अपने बालों को भी धो लेते हैं। पुरुषों के बीच तो ये काफी कॉमन है। लेकिन साबुन का इस्तेमाल करना क्या बालों की सेहत के लिए ठीक है? कहीं पुरुषों के बीच गंजेपन का ये भी तो एक बड़ा कारण नहीं? इन्हीं सब सवालों के जवाब आज हम आपके लिए लेकर आए हैं।

Anmol Chauhan लाइव हिन्दुस्तानThu, 13 June 2024 12:09 PM
हमें फॉलो करें

आपने अक्सर कुछ लोगों को देखा होगा जो अपने बालों को नहाने के साबुन से ही धो लेते हैं। खासतौर से पुरुषों के बीच तो यह काफी दोहरायी जाने वाली ट्रिक है। जिस साबुन से नहाते हैं उसी साबुन को अपने बालों पर भी रगड़ लेते हैं। उन्हें लगता है कि झाग उठ गए मानों बाल साफ हो गए। यकीनन बाल तो साफ हो जाते हैं लेकिन इसका असर उनकी हेल्थ पर भी होता है। आपने देखा होगा कि पुरुषों में बाल झड़ने और गंजेपन की समस्या भी काफी ज्यादा पाई जाती है। कहीं इन दोनों ही बातों का कोई संबंध तो नहीं। आज हम साबुन से बालों पर होने वाले असर के बारे में बात करेंगे। अगर आप भी इन्हीं लोगों में से एक हैं तो आज से ही सोच समझकर फैसला लीजिएगा।

बालों की हेल्थ पर पड़ता है ये असर

अगर आप भी अपने बालों को साबुन से धोते हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि साबुन आपके बालों के लिए बहुत हानिकारक होता है। एक्सपर्ट्स की मानें तो साबुन एल्कलाइन नेचर का होता है। इसके चलते यह बालों को बहुत रूखा-सूखा बना देता है। आपने खुद भी देखा होगा कि साबुन से धोने के बाद बाल बहुत रफ और ड्राई हो जाते हैं। लगातार इस्तेमाल करने से बालों की जड़े भी कमजोर हो जाती हैं और बाल झड़ने लगते हैं। साबुन की वजह से रूसी, खुजली और खराश की भी समस्या हो सकती है। इसलिए साबुन के इस्तेमाल से बचना चाहिए वरना लंबे समय तक यूज करने के बाद गंजेपन की समस्या भी हो सकती है।

साबुन की जगह ट्राई करें ये घरेलू नुस्खे

वैसे तो आपको अपने बालों के हिसाब से ही एक अच्छे शैंपू का चुनाव करना चहिए। लेकिन अच्छे और केमिकल फ्री शैंपू बाजार में बहुत महंगे मिलते हैं इसलिए आप घर पर भी कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से अपने बाल धो सकते हैं। पुराने समय में लोग इन्हीं प्राकृतिक चीजों की मदद से अपने बाल धोते थे और उनके बालों की हेल्थ सालों तक दुरुस्त रहती थी। इनमें आंवला, रीठा, शिकाकाई का घर में ही बना शैंपू बहुत चमत्कारी है। इसके साथ ही मुल्तानी मिट्टी भी एक अच्छा विकल्प है।

ऐप पर पढ़ें