DA Image
25 जनवरी, 2020|7:38|IST

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Kaifi Azmi 101st Birth Anniversary: कैफ़ी आज़मी की 101वीं जयंती पर पढ़ें उनकी मशहूर गजल

kaifi azmi

मशहूर गीतकार और शायर कैफ़ी आज़मी की आज 101वीं जयंती है। आज़मी साहब का जन्म 11 जनवरी 1919 में आजमगढ़ में हुआ था। उन्हें बचपन से ही पढ़ने लिखने का शौक था, जिसे उन्होंने आगे तक बरकरार रखा। आज़मी साहब ने बॉलीवुड को कई बेहतरीन गीत दिए, जो कि आज तक लोग गुनगुनाते हैं। उनकी जयंती के मौके पर पढ़ें उनकी लिखी यह खास गजल...

शोर यूँ ही न परिंदों ने मचाया होगा 
कोई जंगल की तरफ़ शहर से आया होगा 

पेड़ के काटने वालों को ये मालूम तो था 
जिस्म जल जाएँगे जब सर पे न साया होगा 

बानी-ए-जश्न-ए-बहाराँ ने ये सोचा भी नहीं 
किस ने काँटों को लहू अपना पिलाया होगा 

बिजली के तार पे बैठा हुआ हँसता पंछी 
सोचता है कि वो जंगल तो पराया होगा 

अपने जंगल से जो घबरा के उड़े थे प्यासे 
हर सराब उन को समुंदर नज़र आया होगा

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Kaifi Azmi 101st Birth Anniversary Lyricist Kaifi Azmi Popular Ghazals shayari