ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडआपके पार्सल में नशीला पदार्थ है; महिला बैंककर्मी को डरा कर ठगी, एक गलती पड़ी भारी

आपके पार्सल में नशीला पदार्थ है; महिला बैंककर्मी को डरा कर ठगी, एक गलती पड़ी भारी

अज्ञात मोबाइल नंबर से दिल्ली पुलिस बताकर महिला के पास फोन आया। दिल्ली पुलिस ने ऑर्डर किया गया पार्सल नंबर के अलावे अन्य सभी जानकारी देते हुए उसे पार्सल में नशीला पदार्थ होने की बात कही।

आपके पार्सल में नशीला पदार्थ है; महिला बैंककर्मी को डरा कर ठगी, एक गलती पड़ी भारी
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,देवघरSun, 26 May 2024 12:49 PM
ऐप पर पढ़ें

आमतौर पर साइबर ठग उन लोगों को शिकार बनाते हैं जिन्हें ऑनलाइन बैंकिंग या पेमेंट के बारे में कम जानकारी होती है। लेकिन झारखंड में एक महिला बैंककर्मी को ही एक लाख बीस हजार रुपए गंवाने पड़ गए। दरअसल, महिला ने कुछ सामान ऑनलाइन ऑर्डर किया था। लेकिन जब सामान समय पर घर नहीं पहुंचा तब वह इंटरनेट से कस्टमर केयर का नंबर निकाल कर फोन कर दी। बस होना क्या था... जालसाजों ने ऐसा जाल रचा कि महिला डर कर उन्हें पैसे भेज दी। यह देवघर जिले की घटना है।

ऑनलाइन नंबर निकालना पड़ा भारी
साइबर आरोपियों ने नगर थाना क्षेत्र के महिला बैंक कर्मी से शुक्रवार को 1.20 हजार रुपए की ठगी की। पीड़ित महिला ने साइबर थाना पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई है। पीड़िता ने बताया कि सात दिनों पहले एक कंपनी से घरेलू सामान मंगवाने के लिए पार्सल ऑर्डर की थी। कंपनी के द्वारा दिए गए निर्धारित समय पर ऑर्डर घर नहीं पहुंचने पर उसने कंपनी का कस्टमर केयर नंबर ऑनलाइन निकाल कर फोन किया। लेकिन उसे कंपनी के अधिकारी से बात नहीं हो पाई।

फिर 5 लाख की डिमांड
दो घंटे बाद एक अज्ञात मोबाइल नंबर से दिल्ली पुलिस बताकर महिला के पास फोन आया। दिल्ली पुलिस ने ऑर्डर किया गया पार्सल नंबर के अलावे अन्य सभी जानकारी देते हुए उसे पार्सल में नशीला पदार्थ होने की बात कही। ठगों ने बताया कि दिल्ली पुलिस ने पार्सल को ट्रैक कर पकड़ लिया है। पार्सल के पैकेट पर नाम और नंबर दर्ज होने से संपर्क करने की बात बताई। अज्ञात फर्जी दिल्ली पुलिस ने महिला बैंककर्मी को कई तरह की बातों को समझाया। इससे वह डर गई। महिला समझौता कर देने की बात करने लगी। दिल्ली पुलिस ने मामले का समझौता करने के नाम पर महिला से पांच लाख रुपए की मांग की। महिला परेशान होकर 1.20 लाख रुपए देने की बात कही।

ठगी के बारे में ऐसे चला पता
 दिल्ली पुलिस द्वारा दिए गए मोबाइल नंबर और खाता नंबर पर महिला ने पैसे ट्रांसफर कर दिया। इसके बाद भी ठगों ने दोबारा रुपए की मांग की। इस दौरान उसका ऑर्डर किया गया पार्सल आ गया। तब महिला को लगा कि उसके साथ साइबर ठगी हुई है। उसने मामले की जानकारी अपने अन्य परिजन को देते हुए साइबर थाना पहुंचकर अज्ञात के विरुद्ध शिकायत की है। पुलिस मामले की अनुसंधान करने में जुटी हुई है।

महिला बैंक कर्मी ने साइबर थाना में की शिकायत
महिला ने बताया की नगर थाना क्षेत्र के एक बैंक में कार्यरत हूं। दिनांक 17 मई को घरेलू सामान मंगवाने के लिए ऑर्डर की थी। निर्धारित समय पर आर्डर नहीं मिलने पर शुक्रवार को ऑनलाइन कस्टमर केयर का नंबर लेकर फोन की। 2 घंटे बाद अज्ञात नंबर से एक फोन आया। पार्सल ऑर्डर के डिब्बे में नशीला पदार्थ होने की बात बताया। जिसके कारण केस हो जाने, दिल्ली पुलिस घर पहुंचने तथा गिरफ्तारी के बाद नौकरी चले जाने की धमकी देकर खूब डराया। जिसके कारण वह डर गई। मामला रखा दफा करने के लिए 5 लाख की डिमांड कर दिया। रुपए नहीं रहने के कारण उसके द्वारा दिया गया खाता नंबर पर तत्काल 1 लाख 20 हजार भेज दिया। 2 घंटे के बाद फिर फोन कर शेष राशि मांगने लगा। इसी दौरान पार्सल बाय ऑर्डर किया गया पार्सल को लेकर घर पहुंच गया।   

Advertisement