DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

पूरी होगी इन जातियों की वर्षों पुरानी मुराद, झारखंड के मुख्यमंत्री ने दिए संकेत 

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा है कि जनजातीय शोध संस्थान (टीआरआई) की रिपोर्ट आने के बाद राज्य सरकार कोल्ह तेली, रौतिया और कुर्मी जाति को एसटी का दर्जा देने की अनुशंसा केंद्र को भेजेगी।  साथ ही 2021 में होने वाली जनगणना में सरना कोड के लिए केंद्र से अनुशंसा की जाएगी। मुख्यमंत्री ने द. छोटानागपुर और संथाल परगना समेत राज्य के सभी जिलों में पिछड़ी जाति को 27 प्रतिशत आरक्षण दिलाने का वादा करते हुए कहा कि इसके लिए उन्होंने सभी डीसी को जातिगत सर्वें रिपोर्ट देने का निर्देश दिया है। रिपोर्ट मिलते ही आरक्षण  लागू किया जायेगा। 

मुख्यमंत्री बुधवार को गुमला में छोटानागपुरिया तेली उत्थान समाज द्वारा आयोजित तेली जतरा सह सामूहिक विवाह कार्यक्रम में बोल रहे थे।  मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य सरकार धर्म की आड़ में अधर्म बर्दाश्त नहीं करेगी। उन्होंने कहा कि धर्म कीआड़ में अधर्म करने वाली विदेशी ताकतों को होटवार जेल भेजा जाएगा। हमारी धर्म,संस्कृति और परंपरा ही हमारी पहचान हैं,जिसे मिटाने पर विदेशी ताकतें आमदा हैं। धर्मांतरण कराने वाले प्रचारक गांवों में घूम रहे हैं। यदि आप खुद को भगवान बिरसा मुंडा, वीर बुधु भगत का वंशज मानते हैं,तो धर्मांतरण का खेल खेलने वाली ताकतों  का जोरदार विरोध करें।
  

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Years old Murad Chief Minister of Jharkhand signs given