ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडझारखंड में 'डायन' बता महिला की निर्मम हत्या, नग्न हालत में पेड़ से लटका मिला शव

झारखंड में 'डायन' बता महिला की निर्मम हत्या, नग्न हालत में पेड़ से लटका मिला शव

महिला की हत्या कर शव को पेड़ से लटका दिया गया। मंगलवार को नग्न अवस्था में शव कांड्रा थाना क्षेत्र के चौका-कांड्रा मार्ग पर लखना सिंह घाटी के जंगल में पेड़ में फंदे से झूलती मिला।

झारखंड में 'डायन' बता महिला की निर्मम हत्या, नग्न हालत में पेड़ से लटका मिला शव
Suraj Thakurलाइव हिन्दुस्तान,सरायकेला-खरसावांWed, 25 Jan 2023 08:58 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

जिले के चौका थाना क्षेत्र से लापता महिला की हत्या कर शव को पेड़ से लटका दिया गया। मंगलवार को नग्न अवस्था में शव कांड्रा थाना क्षेत्र के चौका-कांड्रा मार्ग पर लखना सिंह घाटी के जंगल में पेड़ में फंदे से झूलती मिला। मृतक के पुत्र राकेश महतो ने साड़ी से शव की शिनाख्त की, जिसके सहारे लाश पेड़ से लटकी थी। इधर, पुत्र ने कांड्रा थाना में डायन बिसाही में हत्या किये जाने का मामला दर्ज कराया है।

मातकमडीह की थी रहने वाली मृतक 
चंदना महतो (40 वर्ष) चौका थाना क्षेत्र के मातकमडीह गांव की रहने वाली थी। इधर, जानकारी मिलने पर कांड्रा सब इंस्पेक्टर चंदन कुमार, एएसआई बीएन प्रसाद ने घटनास्थल पहुंच मामले की छानबीन की तथा शव को पोस्टमार्टम के लिए सरायकेला सदर अस्पताल भेज दिया, जहां से शव को पोस्टमार्टम के लिए एमजीएम भेजा गया।

पुलिस प्रत्येक एंगल से कर रही जांच
कांड्रा इंस्पेक्टर राजेंद्र महतो ने बताया कि जांच में प्रथम दृष्टया मामला आत्महत्या का लगता है। पुलिस हर बिंदु पर जांच कर रही है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी। मालूम हो कि महिला 25 दिसंबर से मातकमडीह स्थित अपने घर से गायब थी। जिसके संबंध में चौका थाना में गुमशुदगी का मामला दर्ज था।

डायन प्रथा के खिलाफ हैं कड़े कानून
गौरतलब है कि झारखंड में डायन प्रथा की रोकथाम के लिए कड़े कानून बनाए गए हैं। डायन शब्द के इस्तेमाल को भी आपराधिक कृत्य में शामिल किया गया है, बावजूद इसके ऐसी घटनाएं होती हैं। सितंबर 2022 में भी राजधानी रांची में 3 महिलाओं को डायन बिसाही के शक में मार डाला था। रांची के सोनाहातू थानाक्षेत्र अंतर्गत राणाडीह गांव में डायन बताकर 3 महिलाओं की हत्या कर दी गई थी। कोल्हान प्रमंडल इलाके में खासतौर पर ऐसी घटनाएं ज्यादा होती है। डायन बिसाही के पीछे सबसे बड़ी वजह लोगों में शिक्षा का अभाव और अंधविश्वास है।