DA Image
2 नवंबर, 2020|7:49|IST

अगली स्टोरी

वर्चस्व की जंग: दो नर हाथियों की लड़ाई में मारा गया नन्हा हाथी

झारखंड में प. सिंहभूम के तांतनगर प्रखंड के कोकचो ओपी क्षेत्र के पंचवटी जंगल में दो नर हाथियों की लड़ाई में 15 दिन के नन्हे हाथी की मौत हो गयी। सूचना पर चाईबासा वन प्रमंडल के अधिकारी सत्यम कुमार व रेंज ऑफिसर आर प्रसाद ने मौके पर पहुंच जानकारी ली। विभाग के अनुसार नन्हे हाथी की मौत इंफेक्शन व कमजोरी से हुई है। 

डीएफओ सत्यम कुमार ने बताया कि नन्हे हाथी की मौत संभवत: कमजोरी से हुई है। पोस्टमार्टम करनेवाले चिकित्सक ने कमजोरी से मौत होने की पुष्टि की है। चिकित्सक के अनुसार बच्चा जन्म से कमजोर था। उसकी नाभी में इंफेक्शन था, जो पूरे शरीर में फैल गया और नन्हे हाथी की मौत हो गयी। वैसे स्थानीय लोग दो नर हाथियों की लड़ाई में नन्हे हाथी के मरने की बात कह रहे हैं। 

हर वर्ष आता है हाथियों का झुंड : ग्रामीणों के अनुसार हाथियों का एक झुंड अंगारडीहा पंचवटी में डेरा डाले हुए है। झुंड हर वर्ष आता है और इस जंगल में दो से तीन माह तक रुकता है। धान की फसल कटने के बाद झुंड यहां से चला जाता है। स्थानीय ग्रामीणों के अनुसार मध्य रात्रि में दो हाथियों के बीच वर्चस्व को लेकर लड़ाई हुई थी।

वन विभाग ने ग्रामीणों को किया अलर्ट : चाईबासा वन प्रमंडल के अधिकारी सत्यम कुमार ने जंगल के आसपास रहने वाले लोगों को कहा है कि वे सभी हाथियों से बच कर रहें। यदि कुछ भी नुकसान होता है तो उसकी सूचना विभाग को तुरंत दें। उन्होंने बताया कि गांव में वन सुरक्षा समिति के सभी सदस्यों को सक्रिय कर दिया गया है, फिर भी लोग सतर्क रहें। 

फोटो 10: मृत नन्हा हाथी।
  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:War of supremacy Two male elephants killed in battle