DA Image
7 नवंबर, 2020|12:22|IST

अगली स्टोरी

धान का बोझा लेने गई नाबालिग से तीन युवकों ने किया गैंगरेप, दरिंदगी के बाद छात्रा को पहाड़ी से नीचे फेंका 

gangrap

खरौंधी थाना क्षेत्र के बजामरवा के खुर्धन पहाड़ी के पास धान का बोझा लेने गई नाबालिग छात्रा के साथ गैंगरेप की सनसनीखेज वारदात सामने आई है। दुष्कर्म का आरोप तीन युवकों पर लगा है। घटना शुक्रवार शाम की है। जानकारी के अनुसार पीड़िता अपने खेत से धान का बोझा लेने गई थी। उस दौरान उसने एक लड़के को धान का बोझा उठाने में मदद करने का अनुरोध किया। उसके बाद तीनों लड़के वहां पहुंच गए।

वहां से तीनों लड़के लड़की को उठाकर खुर्धन पहाड़ी के निर्जन इलाके में उठाकर ले गए। वहां तीनों ने बारी-बारी से उसके साथ दुष्कर्म किया। उस दौरान पीड़िता बेहोश हो गई। बेहोशी की हालत में देखकर लड़के उसे वहां छोड़कर फरार हो गए। वह रातभर घटनास्थल पर ही पड़ी रही। उधर उसके घर नहीं आने पर परिजन भी उसकी खोजबीन करने लगे, पर उसका कहीं पता नहीं चला। शनिवार सुबह जब गांव की एक महिला अपना गाय-बैल खोलने के लिए पहाड़ी की ओर गई तो पीड़िता को एक गड्ढे में बेहोशी की हालत में देखा। वह वहां कराह रही थी। उसे पहचानने के बाद उसकी जानकारी गांव में लोगों को दी।

बाद में सूचना पाकर पहुंचे लोगों ने पीड़िता को बेहोशी की हालत में उठाकर इलाज के लिए यूपी के सोनभद्र जिलांतर्गत कोन ले गए। वहां से इलाज कराने के बाद स्थिति सुधरने पर परिजन पीड़िता को लेकर घर लौटे। बताया जाता है कि पीड़िता अभी भी गहरे सदमे में है। उसे गंभीर रूप से आंतरिक चोट लगी है। बाद में पीड़िता की ओर से जानकारी देने के बाद खरौंधी पंचायत के मुखिया और पीड़िता के परिजन सुंडी पंचायत के पासवान टोला में जाकर पूछताछ की।

पूछताछ के क्रम में एक आरोपी टूट गया और घटना की जानकारी उसे दी। उसने घटना में संलिप्तता स्वीकार कर ली। उसके बाद पीड़िता की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार पीड़िता के पिता ने थाना में 35 वर्षीय संजय उरांव, 25 वर्षीय रंजन उरांव, 22 वर्षीय मानिक उरांव के खिलाफ नामजद केस दर्ज कराया है। केस दर्ज करने के बाद थाना प्रभारी कमलेश कुमार घटनास्थल पर गये, वहां से खून से सना कपड़ा बरामद किया गया। समाचार लिखे जाने तक आरोपियों की गिरफ्तारी नहीं हुई थी। 

घटना की कहानी पीड़िता की जुबानी 
पीड़िता ने बताया कि वह सातवीं क्लास की छात्रा है। वह शुक्रवार शाम खेत में धान का बोझा बांध रही थी। उस दौरान शाम के करीब 4.30 बज रहे थे। उसी बीच उक्त तीन युवक वहां पहुंचे। वहां से उसे जबरन उठाया। उसके मुंह में उसका ओढ़नी ठूंस दिया। वहां से उसे खुर्धन पहाड़ पर करीब 500 मीटर टांगकर ले गए। उसके बाद तीनों ने बारी-बारी से उसका दुष्कर्म किया। रात करीब 11.30 बजे उसे बेहाशी की हालत में लाकर पहाड़ी से नीचे फेंक दिया। उसकी स्थिति ऐसी थी कि वह न तो कुछ बोल पा रही थी और न ही किसी को बुला पा रही थी। पहाड़ी के नीचे ही वह रात भर खुले आसमान के नीचे रही। सुबह गाय बैल खोलने गई तो महिला ने उसे देखा। उसके बाद उसे इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Three youths gang-raped a minor for taking paddy burden in Garhwa me drindagi ke baad ladki ko pahadi se neeche giraya