ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड के इस शहर में मिला स्वाइन फ्लू का संदिग्ध मरीज, कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं; जानिए लक्षण

झारखंड के इस शहर में मिला स्वाइन फ्लू का संदिग्ध मरीज, कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं; जानिए लक्षण

स्वाइन फ्लू एक वायरल इंफेक्शन है, जो मूल रूप से सूअरों से मनुष्यों में फैलता है। अब यह वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है। स्वाइन फ्लू के लक्षण नियमित स्वाइन फ्लू से बहुत मिलते-जुलते हैं।

झारखंड के इस शहर में मिला स्वाइन फ्लू का संदिग्ध मरीज, कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं; जानिए लक्षण
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,जमशेदपुरWed, 01 May 2024 08:54 AM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड के जमशेदपुर के परसूडीह के नामो टोला में स्वाइन फ्लू (एच-1 एन-1) का संदिग्ध मरीज मिला है। मरीज की उम्र करीब 48 साल है। टाटा मोटर्स अस्पताल में उसका इलाज चल रहा है। स्वाइन फ्लू का लक्षण पाए जाने के बाद सर्विलांस विभाग को सूचना दी गई। सर्विलांस टीम ने अस्पताल पहुंचकर मरीज का स्वाब लिया है। इसे जांच के लिए एमजीएम मेडिकल कॉलेज भेजा गया है। मरीज की कोई ट्रेवल हिस्ट्री नहीं है।

सर्दी-खांसी, बुखार और सांस लेने में परेशानी के बाद मरीज को टाटा मोटर्स अस्पताल में भर्ती कराया गया। महामारी रोग विशेषज्ञ डॉक्टर मोहम्मद असद ने बताया कि मरीज को सीवियर एक्यूट रेस्पिरेटरी इलनेस के संदिग्ध लक्षण मिले हैं। रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

जनवरी में मिले थे आठ मरीज
इस साल जनवरी में जिले में स्वाइन फ्लू के आठ मरीज मिले थे। इसमें पांच मरीज शहर के रहने वाले थे और तीन दूसरे शहरों के निवासी थे। सभी मरीज गले में खरास, सर्दी-खांसी व बुखार की शिकायत लेकर अस्पताल टीएमएच में भर्ती हुए थे। ये आम फ्लू या सर्दी-जुकाम की तरह ही होते हैं। जब कोई स्वाइन फ्लू मरीज दूसरे व्यक्ति के संपर्क में आता है तो उसे भी ये बीमारी होने की आशंका रहती है।

स्वाइन फ्लू के लक्षण
स्वाइन फ्लू एक वायरल इंफेक्शन है, जो मूल रूप से सूअरों से मनुष्यों में फैलता है। अब यह वायरस एक इंसान से दूसरे इंसान में फैलता है। स्वाइन फ्लू के लक्षण नियमित स्वाइन फ्लू से बहुत मिलते-जुलते हैं। इसमें बुखार, सिर दर्द, ठंड लगना, दस्त, खांसी और छींक आने जैसे लक्षण शामिल हैं।

यह भी जानिए: दुमका में लू लगने से मजदूर की मौत
लू लगने से मंगलवार की दोपहर एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि दूसरे की स्थिति नाजुक है। उसे फूलो झानो मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती कराया गया है। मृतक की पहचान दुमका के जरुवाडीह निवासी शिव मंडल के रूप में हुई है। वह मजदूरी की तलाश में बाजार आया था। वापस लौटने के दौरान वह जिला नियंत्रण कक्ष के समक्ष मूर्छित होकर गिरा पड़ा। उसके साथ एक और मजदूर था। वह भी मूर्छित होकर गिर गया। जिला नियंत्रण कक्ष प्राइवेट बस पड़ाव के पास है। इस रोड से लोगों की आवाजाही होती है। स्थानीय लोगों की नजर जब दोनों पर पड़ी तो पुलिस को सूचित किया गया। गश्ती दल की पुलिस मौके पर पहुंची और मूर्छित मजदूरों को उठाकर इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज लेकर गई, जहां डॉक्टरों ने एक को मृत घोषित कर दिया, जबकि दूसरे का इलाज चल रहा है। नगर थाना प्रभारी अमित लकड़ा ने बताया कि एक मजदूर की लू लगने से मौत होने की संभावना है, जबकि दूसरे का इलाज चल रहा है। बता दें कि एक सप्ताह में लू लगने से मजदूर सहित तीन की मौत हो गई है।