ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में कार ने स्कूटी को मारी टक्कर, एक का पैर कटकर अलग; महिला के सिर पर चढ़ा पहिया

झारखंड में कार ने स्कूटी को मारी टक्कर, एक का पैर कटकर अलग; महिला के सिर पर चढ़ा पहिया

झारखंड के धुर्वा में एक दर्दनाक हादसा सामने आया है। धुर्वा थाना क्षेत्र में तेज रफ्तार कार ने स्कूटी सवार समेत दो लोगों को अपनी चपेट में ले लिया। दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

झारखंड में कार ने स्कूटी को मारी टक्कर, एक का पैर कटकर अलग; महिला के सिर पर चढ़ा पहिया
Subodh Mishraहिन्दुस्तान,रांचीSat, 15 Jun 2024 11:18 AM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड के धुर्वा में एक दर्दनाक हादसा सामने आया है। धुर्वा थाना क्षेत्र के सेक्टर 3 मोड़ के पास तेज रफ्तार कार ने स्कूटी सवार समेत दो लोगों को अपनी चपेट में ले लिया। इस घटना में स्कूटी सवार एक व्यक्ति का पैर उसके शरीर से कटकर अलग हो गया। जबकि, पैदल रास्ता पार कर रही महिला भी गंभीर रूप से घायल हो गयी। घटना शुक्रवार की है।

जानकारी के अनुसार, घायल व्यक्ति विवेक कुमार सिंह चुटिया के कृष्णापुरी रोड नंबर एक का रहने वाला है और महिला सोमा सरकार सेक्टर टू की रहने वाली है। दोनों घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है, जहां दोनों की हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं, पुलिस ने कार को जब्त कर उसके चालक को हिरासत में लिया है। चालक चुटिया कृष्णापुरी रोड नंबर चार का रहने वाला है।

बताया गया कि भागने के क्रम में कार सवार ने रास्ता पार कर रही महिला सोमा को धक्का मारते हुए उसके सिर पर चक्का चढ़ा दिया। आसपास मौजूद लोगों ने शोर मचाया, जिसके बाद चालक भागने लगा। हालांकि लोगों ने उसे पकड़ लिया और जमकर धुनाई करने के बाद पुलिस के हवाले कर दिया।

कट से मुड़ते ही हादसा, लोगों ने कहा-बम सी आवाज

बताया जा रहा है कि शुक्रवार दोपहर स्कूटी सवार एक साइड से धुर्वा गोलचक्कर की ओर जा रहे थे। बिरसा चौक की ओर से तेज रफ्तार कार (संख्या-जेएच01डीयू-6557) भी गोलचक्कर की ओर जा रहा था। सेक्टर थ्री मोड़ के पास जब स्कूटी सवार कट में मुड़ने लगा, तभी तेज रफ्तार कार ने धक्का मार दिया। लोगों ने कहा कि ऐसा लगा जैसे बम फटा हो। घटना में स्कूटी सवार का एक पैर का नीचे का हिस्सा उसके शरीर से अलग हो गया।

2.5 किमी में न साइनेज बोर्ड, न ब्रेकर

धुर्वा गोलचक्कर से बिरसा चौक के बीच की दूरी करीब ढाई किलोमीटर है। अच्छी सड़क होने के कारण वाहनों की रफ्तार तेज रहती है। विभाग ने सड़क तो बढ़िया बना दिया। मगर, वाहन चालक व आम नागरिकों की सुरक्षा का कोई ध्यान नहीं रखा गया है। हालत ये है कि इस ढाई किलोमीटर की सड़क पर न तो स्पीड का साइनेज बोर्ड लगाया गया है और न ही स्पीड ब्रेकर। यहां तक कि डिपार्टमेंट की ओर से इस मार्ग में वाहनों की गति सीमा भी निर्धारित नहीं की गई है। इसका फायदा वाहन चालक उठा रहे हैं। इस मार्ग में चालक अपने वाहन की स्पीड सौ से अधिक ही रखते हैं। इसकी वजह से इस मार्ग में दुर्घटनाएं हो रहीं हैं।  ताजा उदाहरण शुक्रवार की दोपहर हुई दुर्घटना है। चालक 150 किमी की रफ्तार से कार चला रहा था।

सप्ताह में चार दिन लगता है बाजार, रहती है भीड़

इस मार्ग में सप्ताह में चार दिन बाजार लगता है। अधिकतर लोग अपनी दो एवं चार पहिया वाहन बाजार करने के लिए सड़क किनारे ही खड़ी करते हैं। इस कारण इस मार्ग में सुबह से शाम तक लोगों की भीड़ रहती है। इसके बाद में इस मार्ग में स्पीड ब्रेकर नहीं लगाया गया है।

Advertisement