ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडअब शिकंजे में शेख शाहजहां का करीबी, आमिर अली गाजी झारखंड से हुआ गिरफ्तार

अब शिकंजे में शेख शाहजहां का करीबी, आमिर अली गाजी झारखंड से हुआ गिरफ्तार

बता दें कि संदेशखाली केस के मुख्य आरोपी शाहजहां शेख के करीबी आमिर अली गाजी को पश्चिम बंगाल पुलिस ने झारखंड से गिरफ्तार किया है। SDPO मिनाखा अमीनुल इस्लाम खान ने इस बात की जानकारी दी है।

अब शिकंजे में शेख शाहजहां का करीबी, आमिर अली गाजी झारखंड से हुआ गिरफ्तार
Nishant Nandanलाइव हिन्दुस्तान,रांचीThu, 29 Feb 2024 05:22 PM
ऐप पर पढ़ें

Sheikh Shahjahan Close Aide Arrested : पश्चिम बंगाल के संदेशखाली केस के मुख्य आरोपी शेख शाहजहां की गिरफ्तारी के बाद अब पुलिस को एक और बड़ी कामयाबी मिली है। शेख शाहजहां के करीबी आमिर अली गाजी को पश्चिम बंगाल पुलिस ने झारखंड से गिरफ्तार किया है। SDPO अमीनुल इस्लाम खान ने इस बात की जानकारी दी है। बताया जा रहा है कि आमिर अली गाजी को मिनाखा इलाके से गिरफ्तार किया गया है। 

आमिर अली गाजी के बारे में बताया जाता है कि वो महिलाओं को धमकाता था और कथित तौर पर मनरेगा के तहत जॉब कार्ड धारकों से कट मनी लेता था। आमिर अली गाजी, शेख शाहजहां का करीबी सहयोगी बताया जाता है। आमिर अली पर ग्रामीणों को धमकाने और उनसे पैसे वसूलने के आरोप भी लगे।

इससे पहले शेख शाहजहां की गिरफ्तारी के कुछ ही देर बात तृणमूल कांग्रेस के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन ने शाहजहां को पार्टी से निलंबित करने के फैसले का ऐलान किया। डेरेक ओ ब्रायन ने कहा, 'हमने शेख शाहजहां को छह साल के लिए पार्टी से निलंबित करने का फैसला किया है। हमेशा की तरह हम जो कहते हैं वो करते हैं। हमने अतीत में भी ऐसे उदाहरण पेश किए हैं और हम आज भी ऐसा कर रहे हैं।' शेख शाहजहां संदेशखाली विधानसभा क्षेत्र का टीएमसी संयोजक था। शेख शाहजहां 50 दिनों से ज्यादा समय से फरार था। पुलिस ने उसे उत्तर 24 परगना से गिरफ्तार किया है।

प्रवर्तन निदेशालय ने दावा किया था कि पश्चिम बंगाल के राशन घोटाले में करीब 10 हजार करोड़ रुपये का भ्रष्टाचार हुआ है। इस मामले में शेख शाहजहां की संलिप्ता भी सामने आई है। 5 जनवरी को जब ईडी की टीम शेख शाहजहां के आवास पर छापा मारने पहुंची थी तब उसके गुर्गों ने ईडी की टीम पर हमला कर दिया था। सुरक्षा बलों के वाहनों में तोड़फोड़ की गई थी। हमले में ईडी के तीन अधिकारी जख्मी भी हो गए थे। ईडी अफसरों के लैपटॉप और मोबाइल फोन भी लूट लिए गए थे। संदेशखाली के कई लोगों ने आरोप लगाया कि शेख शाहजहां अपनी दबंगई के बल पर जमीनें लीज पर लेता था और फिर उनपर कब्जा कर लेता था। आदिवासियों और किसानों पर अत्याचार का आरोप भी शेख शाहजहां पर है। कई महिलाओं ने आरोप लगाए हैं कि शेख शाहजहां के गुंडे उनकी आबरू के साथ खिलवाड़ करते थे।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें