DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  कोडरमा-हजारीबाग रेल ट्रैक पर गिरी चट्टान, बाल-बाल बची मालगाड़ी, साढ़े पांच घंटे रेलवे ट्रैक रहा बाधित
झारखंड

कोडरमा-हजारीबाग रेल ट्रैक पर गिरी चट्टान, बाल-बाल बची मालगाड़ी, साढ़े पांच घंटे रेलवे ट्रैक रहा बाधित

कोडरमा हजारीबाग। संवाददाताPublished By: Yogesh Yadav
Wed, 16 Jun 2021 09:06 PM
कोडरमा-हजारीबाग रेल ट्रैक पर गिरी चट्टान, बाल-बाल बची मालगाड़ी, साढ़े पांच घंटे रेलवे ट्रैक रहा बाधित

धनबाद रेल मंडल अंतर्गत कोडरमा-बरकाकाना रेलखंड में एनएच 31 का चौड़ीकरण कार्य कर रही जेसीबी से बरही और पिपराडीह के बीच जवाहर घाट में चट्टान खि‍सककर रेल ट्रैक पर गिर गयी। इससे एक मालगाड़ी का इंजन क्षतिग्रस्त हो गया। लगभग साढ़े पांच घंटे तक इससे रेलवे ट्रैक पर परिचालन बाधित रहा। 

जानकारी के अनुसार कोडरमा जंक्शन से हजारीबाग टाउन के बानादाह जा रही अनलोडेड मालगाड़ी के इंजन पर पत्थर गिरा और मालगाड़ी दुर्घटनाग्रस्त होने से बाल-बाल बच गई। घटना की सूचना मिलते ही धनबाद रेल मंडल के डीईएन 5 प्रीतम कुमार के अलावा हजारीबाग टाउन के यातायात निरीक्षक मनोज कुमार नीरज, पीडब्लूआई सुनील कुमार, जेई शंभु कुमार, बरही स्टेशन प्रबंधक चंदन केसरी, पिपराडीह स्टेशन प्रबंधक बीबी सिंह घटनास्थल पर पहुंचे।

बुधवार की सुबह लगभग आठ बजे ट्रैक से पत्थर हटाया गया। इसके बाद दो घंटे का मेगा ब्लॉक लेकर कार्य किया गया। घटना की वजह से कोडरमा जंक्शन से भाया हजारीबाग-बरकाकाना स्टाफ स्पेशल ट्रेन को रद्द कर दिया गया। वहीं, बरकाकाना से कोडरमा दिन 10:30 बजे पहुंचने वाली बरकाकाना-कोडरमा पैसेंजर ट्रेन लगभग ढाई घंटे विलंब से कोडरमा पहुंची।

घटना के बाद अहले सुबह इंजन और बोगी को पुनः पिपराडीह लाया गया। घटना की जांच को लेकर रेलवे ने एक टीम गठित की है, जो घटना की रिपोर्ट सौंपेगी। रोड निर्माण कंपनी की जेसीबी और अन्य मजदूरों  द्वारा युद्धस्तर पर काम करने के उपरांत ट्रैक पर आवागमन लगभग 10:30 बजे सुबह शुरू हुआ। बताते चलें कि रोड कंस्ट्रक्शन कंपनी बिना रेलवे प्रशासन को सूचना दिए कार्य कर रही थी। इसके पूर्व भी जवाहर घाट में कार्य करने के दौरान बारिश होते ही सड़क पर ही बड़े-बड़े बोल्डर गिर रहे थे। बरही सीओ अरविंद देबाशीष टोप्पो ने इसकी सूचना भी एनएचएआई को दी थी।

बरही स्टेशन अधीक्षक चन्दन केशरी ने जानकारी देते हुए बताया कि एक बड़ा हादसा होते-होते टल गया। बोल्डर मालगाड़ी से कुछ फर्लांग दूरी पर ही गिरे थे। सही समय पर चालक ने मालगाड़ी को रोक दी, इससे बड़ा हादसा टल गया।

संबंधित खबरें