DA Image
Monday, November 29, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडझारखंड: विधवा असहाय को सौगात, पेंशन के लिए राशनकार्ड जरूरी नहीं, जानिए-सीएम ने और क्या कहा

झारखंड: विधवा असहाय को सौगात, पेंशन के लिए राशनकार्ड जरूरी नहीं, जानिए-सीएम ने और क्या कहा

हिन्दुस्तान ब्यूरो,गोड्डाSudhir Kumar
Tue, 26 Oct 2021 08:11 AM
झारखंड: विधवा असहाय को सौगात, पेंशन के लिए राशनकार्ड जरूरी नहीं, जानिए-सीएम ने और क्या कहा

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि विधवा पेंशन के लिए राशन कार्ड आदि की आवश्यकता नहीं रहेगी। जो विधवा असहाय हैं, उनको सरकार की ओर से पेंशन उपलब्ध करायी जाएगी। ये बातें उन्होंने गोड्डा जिले के राजाभिट्टा स्टेडियम में राज्य सरकार की विभिन्न योजनाओं का शिलान्यास एवं उद्धघाटन के साथ लाभुकों के बीच परिसंपत्ति वितरण कार्यक्रम को संबोधित करते हुये कही।

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा कि वैश्विक महामारी के दौरान भी जीवन को सामान्य बनाने की प्रक्रिया आगे बढ़ रही है। सुदूर प्रखंड में अब हम एकत्रित हुए हैं। सरकार की कई योजनाओं से लोगों को जोड़ा गया है। करोड़ों रुपये की जनहित योजनाओं का शिलान्यास और उद्घाटन हुआ है, जिससे जनसामान्य की समस्यायों के निराकरण में सहयोग प्राप्त होगा।

"राज्य सरकार की ओर चलाई जा रही कल्याणकारी योजनाओं से लोगों को मदद मिलती देख सुकून मिलता है। जनता का आशीर्वाद और स्नेह, रास्ते में आ रही बाधाओं को दूर करने में मेरी मदद करता है। आप सभी ने मुझे जो दायित्व सौंपा है उसे मैं पूरी लगन से दिन-रात मेहनत कर पूरा करने के लिये काम कर रहा हूं।"
                                                                                                                                                                                       - हेमंत सोरेन, मुख्यमंत्री

इस वर्ष को नियुक्ति वर्ष के रूप में मना रहे

मुख्यमंत्री ने कहा कि इस वर्ष को सरकार नियुक्ति वर्ष के रूप में मना रही है। विभिन्न विभागों द्वारा नियमावली तैयार की जा रही है, जिससे जल्द से जल्द सभी विभागों में रिक्त पद भरे जा सकेंगे। साथ ही रोजगार के नए अवसर से लोगों को जोड़ा जा सकेगा। उन्होंने कहा कि आप सब को भी जागरूक रहना होगा। सरकार आपके हित के लिए कई तरह के नियम बना रही है, जिसका फायदा आप सजग रह कर उठा सकते हैं।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें