ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडरांची में गोलगप्पे, आइसक्रीम और चाट-पकौड़ी का मिलेगा स्वाद, बस 25 मई को करना होगा यह एक काम

रांची में गोलगप्पे, आइसक्रीम और चाट-पकौड़ी का मिलेगा स्वाद, बस 25 मई को करना होगा यह एक काम

रांची लोकसभा सीट के लिए 25 मई को मतदान होना है। ऐसे में वोटर्स को पोलिंग बूथ तक लाने के लिए नगर निगम ने खास तैयारी की है। मतदाता वोट डालने के बाद बाहर लगे स्टॉल पर लजीज व्यंजन खा सकते हैं।

रांची में गोलगप्पे, आइसक्रीम और चाट-पकौड़ी का मिलेगा स्वाद, बस 25 मई को करना होगा यह एक काम
Sneha Baluniराजू प्रसाद,रांचीSat, 18 May 2024 08:00 AM
ऐप पर पढ़ें

रांची नगर निगम क्षेत्र के मतदाता वोट डालने के बाद मतदान केन्द्र के बाहर लगे स्टॉल पर गोलगप्पे, आइसक्रीम, चाट और लजीज व्यंजन का लुत्फ उठा सकेंगे। रांची लोकसभा सीट के लिए 25 मई को मतदान होगा। इस बार निगम क्षेत्र में 50 मतदान केन्द्र के बाहर सौ मीटर की दूरी पर कई स्टॉल, ठेला और दुकान लगाया जाएगा। जहां मतदाता लोकतंत्र के महापर्व पर चाट-पकौड़े के साथ गर्म चाय की चुस्कियां लेकर पारिवारिक माहौल में अपनों के बीच कुछ समय बिता सकेंगे। यह पहला मौका होगा जब निगम की ओर से मतदाताओं के लिए ऐसी व्यवस्था बहाल की जाएगी। हालांकि अल्पाहार के लिए मतदाताओं को स्वयं के स्तर से इसके लिए भुगतान करना होगा।

निगम क्षेत्र के 50 मतदान केंद्र के बाहर बहाल रहेगी व्यवस्था

हल्के-फुल्के आहार की व्यवसथा निगम क्षेत्र के वार्ड संख्या एक से 53 में 50 मतदान केंद्र के बाहर बहाल की जाएगी। इसके लिए निगम के स्तर से फुटपाथ दुकानदारों के जरिए स्टॉल, ठेला, दुकान लगाया जाएगा। निगम इसके लिए वेंडर्स को अनुमति देगा। जिस मतदान केंद्र को ऐसी व्यवस्था के लिए चिन्हित कर तैयारी चल रही है, उसमें रांची विधानसभा के 17, हटिया के 16, खिजरी के सात और कांके विधानसभा क्षेत्र के आठ मतदान केंद्र शामिल हैं। इन मतदान केंद्रों पर कुल 229 बूथ हैं।

पारिवारिक मतदान की है अवधारणा

लोकसभा चुनाव के मौके पर बहाल होने वाली सुविधा के पीछे पारिवारिक मतदान की अवधारणा है। पहले लोग मतदान करने के तुरंत बाद वहां से परिवार के सदस्यों के साथ घरों के लिए निकल जाते थे। इस बार नई व्यवस्था बहाल रखने का उद्देश्य यह भी है कि मतदाता मतदान केंद्र के बाहर परिवार के सदस्यों के साथ कुछ देर तक रूकें और प्रक्रिया समेत शांतिपूर्ण एवं खुशनुमा माहौल में व्यंजनों का आनंद उठाए कर मतदान को उत्सव के रूप में मनाएं।