DA Image
26 नवंबर, 2020|9:30|IST

अगली स्टोरी

झारखंड: बारिश से कोल्हान में तबाही, कई सड़कें हुईं जलमग्न, फसल बर्बाद

झारखंड में दो दिनों से लगातार हो रही बारिश ने बुधवार को कोल्हान के तीनों जिलों पूर्वी सिंहभूम, पश्चिमी सिंहभूम और सरायकेला-खरसावां जिले को पानी-पानी कर दिया है। सबसे ज्यादा तबाही पश्चिमी सिंहभूम में हुई है।

सोनुवा-गोईलकेरा मुख्य मार्ग के सोनुवा के चांदीपोस व झाड़गांव के बीच स्थित पुलिया पर सुबह नदी का पानी बहने लगा,  जिससे वाहनों का आवागमन बाधित हो गया। वहीं, गुवा से बड़ाजामदा जाने वाले मुख्य मार्ग के बोकना के पास लोहा पुलिया जलमग्न हो गई। बड़ाजामदा भी जलमग्न हो गया। सड़कों के साथ लोगों के घरों में भी पानी भर गया। गाड़ियों का आवागमन पूरी तरह से बंद हो गया। लोगों के घरों का सारा सामान खराब हो गया। राशन पानी में बह गया। 

डैम से बह रहा पानी
गुवा स्थित सेल का डैम कटने से खदान का लाल पानी कारो नदी में आकर बहने लगा। 

चाईबासा के कई मार्ग डूबे
चाईबासा के मझगांव-बेनिसागर पथ पर पुलिया के ऊपर पानी बह रहा है। खेत डूब गए हैं। वहीं, झींकपानी के चोंया गांव में इली नदी का पानी पुल के ऊपर आ गया है। मंझारी प्रखंड की पांगा पंचायत में शिवचरण गोप का मकान ध्वस्त हो गया। सरायकेला-खरसावां जिले के कई इलाकों में भी पानी भरा हुआ है। 

पूर्वी सिंहभूम में एनएच-33 पर पानी भरा
जमशेदपुर में जहां एनएच 33 पर पानी भर गया। शहर के बागबेड़ा समेत कई निचले इलाकों में पानी भर गया।

बहरागोड़ा में चेकडैम टूटा, कई एकड़ फसल बर्बाद
बहरागोड़ा के पूर्वांचल क्षेत्र में कई एकड़ धान की फसल बर्बाद हो गई। कई कच्चे रास्ते बह गए। कई गांवों में पानी घुस गया है। खंडामौदा के पास चेकडैम टूट गया है। फिलहाल जमकर बारिश हो रही है। स्थिति रही तो स्वर्णरेखा नदी का पानी भी पित्रेश्वर में प्रवेश करने लगेगा और बाढ़ की स्थिति हो जाएगी।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:rain caused havoc in kolhan area of jharkhand road submerged in water and corps damages