अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

निजी विश्वविद्यालय की घटेगी फीस, फिर से तय होगा स्ट्रक्चर

private university (demo photo)

राज्य के निजी विश्वविद्यालयों की फीस कम की जायेगी। इसके लिए फिर से फीस स्ट्रक्चर तय किया जायेगा। निजी विश्वविद्यालयों में सीटों के अनुपात में छात्र-छात्राओं के कम नामांकन को लेकर फीस कम होगी ताकि ज्यादा से ज्यादा छात्र-छात्राएं यहां नामांकन ले सकें। उच्च, तकनीकी व कौशल विकास ‌विभाग में शुक्रवार को निजी विश्वविद्यालयों की बैठक में इस पर सहमति बनी। विभाग के सचिव राजेश शर्मा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में निजी विश्वविद्यालयों ने निर्धारित सीटों पर नामांकन कम होने की समस्या बतायी। इस पर विभाग की ओर से फीस स्ट्रक्चर संशोधित करने का प्रस्ताव दिया गया, जिस पर निजी विश्वविद्यालयों ने सहमति जतायी। फीस कम होने से जहां छात्र-छात्राओं नामांकन बढ़ेगा, वहीं दूसरे प्रदेशों में होने वाला पलायन रुकेगा।  

एडमिट कार्ड से लेकर सर्टिफिकेट तक मिलेगा ऑनलाइन
चांसलर पोर्टल के जरिये ऑनलाईन आवेदन करने वाले छात्र-छात्राओं को नामांकन के बाद आगे परीक्षा के लिए प्रवेश पत्र, अंक पत्र से लेकर सर्टिफिकेट तक ऑनलाइन मिलेगा। इसको लेकर सभी विश्वविद्यालयों को निर्देश दिये गये हैं। चांसलर पोर्टल में जो कुछ समस्याएं हैं उसे अविलंब दुरुस्त किया जायेगा। ऑनलाइन आवेदन आने से कॉलेजों में छात्रों की भीड़ कम हुई है और गलत तरीके से होने वाले नामांकन पर भी रोक लगी है। उच्च, तकनीकी व कौशल विकास ‌विभाग ने विश्वविद्यालयों को गुणवत्तावाली शिक्षा देने के साथ-साथ जीईआर (ग्रास इनरॉलमेंट रेसियो) बढ़ाने का निर्देश दिया। 


 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Private University will reduced fees