ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडझारखंड पर पीएम मोदी ने की सौगातों की बरसात, हेल्थ से रेल तक अरबों का तोहफा 

झारखंड पर पीएम मोदी ने की सौगातों की बरसात, हेल्थ से रेल तक अरबों का तोहफा 

Jharkhand News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन के तहत झारखंड में लगभग 178 करोड़ रुपये की 9 स्वास्थ्य परियोजनाओं का ऑनलाइन शिलान्यास किया।

झारखंड पर पीएम मोदी ने की सौगातों की बरसात, हेल्थ से रेल तक अरबों का तोहफा 
Sudhir Jhaहिन्दुस्तान,रांचीMon, 26 Feb 2024 09:25 AM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन के तहत झारखंड में लगभग 178 करोड़ रुपये की 9 स्वास्थ्य परियोजनाओं का ऑनलाइन शिलान्यास किया। पीएम के कार्यक्रम के सीधा प्रसारण को लेकर रिम्स के शैक्षणिक भवन सभागार में एक समारोह का आयोजन किया गया था। बतौर मुख्य अतिथि राज्य के स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि प्रधानमंत्री ने जिन 9 योजनाओं का शिलान्यास किया है, वह 6040 की है। स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्र की आयुष्मान भारत पीएमजय योजना पर कहा कि यह योजना भी 6040 की है। राज्य में आयुष्मान भारत योजना के 61.50 लाख लाभुक हैं। इसमें से महज 28 लाख लाभुकों को ही योजना का लाभ केंद्र सरकार देती है। शेष लाभुकों को योजना का लाभ राज्य सरकार अपने खर्च से देती है। कार्यक्रम के बाद मंत्री ने डेंटल कॉलेज के पीछे सीसीबी का औपचारिक रूप से शिलान्यास किया।

पीएम आज करेंगे रेलवे की 115 योजनाओं का शुभारंभ
मोदी सोमवार को झारखंड में अमृत भारत स्टेशन योजना के तहत 57 स्टेशनों के पुनर्विकास के साथ ही कुल 115 रेल परियोजनाओं का शिलान्यास व शुभारंभ करेंगे। इसके तहत रांची रेलमंडल में कुल 397.6 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे। वहीं, धनबाद रेलमंडल में 647 करोड़ रुपये की परियोजना और चक्रधरपुर रेलमंडल में 11 स्टेशनों के पुनर्विकास के साथ 13 एलएचएस, 3 ओवरब्रिज, 4 रोड अंडरब्रिज व 6 सबवे का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगे।

किसी न किसी रूप में लेंगे रिम्स के वरीय चिकित्सकों की सेवा
स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि रिम्स में बेहतर चिकित्सक हैं। हमारे चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मियों ने कोविड में अपनी क्षमता दिखाई है। रिम्स के वरीय चिकित्सकों के लगातार रिटायर होने पर उन्होंने कहा कि हम किसी ने किसी रूप में उनके अनुभव का उपयोग करेंगे। प्रधान सचिव अजय कुमार सिंह कार्मिक और वित्त के भी अनुभवी हैं। रिम्स और रिम्स के बाहर के वरीय चिकित्सकों को किस नियम के तहत रखा जाए, इस पर विचार किया जा रहा है। पुराने चिकित्सकों के अनुभव और युवा जोश के साथ रिम्स को उन्न्त और समृद्ध करेंगे। रिम्स के आउटसोर्स कर्मियों के कई माह के बकाया भुगतान को लेकर मंत्री ने कहा कि एक सप्ताह के अंदर सभी का भुगतान होगा। इस अवसर पर सांसद संजय सेठ, विधायक सीपी सिंह, समरी लाल, स्वास्थ्य मंत्रालय के चिकित्सा निदेशक कुमार राहुल, रिम्स निदेशक डॉ राज कुमार, एनएचएम एएमडी विद्यानंद शर्मा पंकज, निदेशक प्रमुख डॉ बीपी सिंह, डॉ आरएन शर्मा, रिम्स अधीक्षक डॉ बिरुआ, डॉ विद्यापति, डॉ भट्टाचार्या, डॉ ब्रजेश उपस्थित थे।  

कोई मंत्री और सचिव आए रिम्स सुधरने का नाम नहीं ले रहा: सीपी सिंह
विधायक सीपी सिंह ने कहा कि बीते 50 सालों से रिम्स देख रहे हैं। कोई मंत्री और सचिव आ जाए रिम्स सुधरने का नाम नहीं ले रहा है। सीपी सिंह ने कहा कि रिम्स चिकित्सकों के लिए बनाया गया नॉन प्रैक्टिसिंग का नियम गलत है। उन्होंने सुझाव दिया कि सरकार यह तय करे कि चिकित्सकों के लिए जो भी निर्धारित समय है, वह उस समय पर अपनी ड्यूटी ईमानदारी से करें। ड्यूटी आवर के बाद चिकित्सक क्या कर रहे हैं, उसे न देखे। उन्होंने दूसरा सुझाव दिया कि निजी अस्पताल मरीजों को लूट रहे हैं, उसे बंद किया जाए। कई अस्पताल आयुष्मान योजना के तहत भी बहाने बनाकर मरीजों को लूटते हैं, इसपर लगाम लगना चाहिए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें