ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंड2018 में शिलान्यास, आज उद्घाटन; पीएम मोदी ने पूरा किया झारखंड से किया यह वादा

2018 में शिलान्यास, आज उद्घाटन; पीएम मोदी ने पूरा किया झारखंड से किया यह वादा

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज देश के पहले उर्वरक प्लांट को दोबारा शुरू करेंगे। 2002 में इसे घाटे की वजह से बंद कर दिया गया था। पीएम इसे राष्ट्र को समर्पित कर देंगे। कर्मियों से भी बात करेंगे।

2018 में शिलान्यास, आज उद्घाटन; पीएम मोदी ने पूरा किया झारखंड से किया यह वादा
Sneha Baluniलाइव हिन्दुस्तान,धनबादFri, 01 Mar 2024 02:34 PM
ऐप पर पढ़ें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को देश के सबसे पुराने उर्वरक प्लांट सिंदरी का उद्घाटन कर दिया। पीएम ने 2018 में इसका शिलान्यास किया था। साल 2002 में भारी नुकसान और पुरानी हो चुकी तकनीक के कारण इस प्लांट को बंद कर दिया गया। पीएम ने प्लांट का उद्घाटन करने से पहले इसकी निरिक्षण किया। अधिकारि ने उन्हें इसे लेकर पूरी जानकारी दी। फिर राष्ट्र को प्लांट समर्पित करते हुए पीएम ने कहा कि यह मोदी की गारंटी थी, जो आप पूरी हुई है। उन्होंने कहा कि इससे लगभग 20,000 लोगों को रोजगार मिलेगा। नए प्लांट को 8939 करोड़ की लागत से स्थापित किया गया है। 

1951 में शुरू हुआ था प्लांट

सिंदरी स्थित देश का पहला फर्टिलाइजर प्लांट दो मार्च 1951 को शुरू हुआ था। पुरानी तकनीक और लगातार हो रहे घाटे की वजह से इसे 31 दिसंबर 2002 को बंद कर दिया गया था। अब इसकी जगह पिछले साल हिन्दुस्तान उर्वरक एंड रसायन लिमिटेड का नया प्लांट बनाया गया है। यहां से व्यावसायिक उत्पादन शुरू हो गया है लेकिन प्लांट का औपचारिक तौर पर उद्घाटन नहीं हुआ है। पीएम ने इस उर्वरक प्लांट में व्यक्तिगत दिलचस्पी ली और 25 मई, 2018 को इसके पुनर्निर्माण की आधारशिला रखी थी। 

उत्पादन व डिस्पैच से जुड़े कर्मियों से पीएम करेंगे बात

यूरिया का उत्पादन, पैकेजिंग व डिस्पैच कैसे होता है, इसकी जानकारी प्रधानमंत्री लेंगे। हर्ल प्रबंधन की ओर से प्रधानमंत्री को दिखाने के लिए व्यवस्था की गई है। पीएम के दौरे को लेकर हर्ल के कर्मी काफी खुश हैं। प्रधानमंत्री से मिलने और बात करने को उत्सुक हैं। कारखाना में पैकिंग और उत्पादन करने वाले तथा अभियंत्रण विभाग के कर्मियों का कहना है कि कभी सपने में भी नहीं सोचा था कि प्रधानमंत्री उनके बीच आएंगे और उनसे रूबरू होने का मौका मिलेगा।

सभी कर्मियों को उनके कार्यों की जिम्मेदारी प्रबंधन ने दे दी है। कुछ कर्मियों से पीएम मोदी बात भी कर सकते हैं। प्लांट के अंदर सबसे पहले स्वीच रूम में पीएम जाएंगे। उदघाटन करने के बाद ही कर्मियों व अधिकारियों से बात करेगे। प्लांट को भी देखेंगे। कर्मियों से बात करेंगे। प्लांट के अंदर सभी व्यवस्था की गई है। इधर हर्ल के कई सेवानिवृत्त कर्मियों को पास नहीं मिला है। इसको लेकर सेवानिवृत्त कर्मी मायूस हैं।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें