DA Image
12 अगस्त, 2020|6:08|IST

अगली स्टोरी

झारखंड में 13 जुलाई से पटना-रांची जनशताब्दी और दानापुर-टाटा सुपरफास्ट ट्रेनें रद्द

13                                    -                                                                        -

राज्य में कोरोना संक्रमण की बढ़ी रफ्तार ने जनता से लेकर सरकार तक की चिंता बढ़ा दी है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए प्रशासन ने लॉकडाउन के कड़ाई से पालन के लिए एक बार फिर सख्ती बढ़ा दी है। कई क्षेत्रों में निषेधाज्ञा लागू कर दिया गया है, कुछ जगहों पर पुलिस ने फ्लैग मार्च भी किया है। साथ ही लोगों को बगैर डॉक्टर के पर्चे के भी कोरोना जांच कराने की छूट दी गई है। कोई भी व्यक्ति जरूरत के अनुसार चिह्नित नमूना संग्रह केद्र  में अपना सैंपल देकर जांच करा सकता है।

    राज्य सरकार के आग्रह पर रेलवे ने पटना-रांची जनशताब्दी एक्सप्रेस और दानापुर-टाटा सुपरफास्ट एक्सप्रेस दोनों ट्रेनों को 13 जुलाई से रद्द कर दिया है। वहीं सरकार के आला अधिकारी हालात की लगातार समीक्षा कर रहे हैं। संक्रमण की परिस्थिति के मुताबिक निर्णय लिया जाएगा।  कोरोना के बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर राज्य में 31 जुलाई तक लागू लॉकडाउन की पाबंदियों पर सख्ती शुरू कर दी गई है। हजारीबाग शहर और रामगढ़ के कुछ हिस्सों में निषेधाज्ञा (धारा-144) लागू कर दी गई है जबकि लोहरदगा के कुड़ू, चाईबासा, लोहरदगा में पुलिस ने फ्लैग मार्च करके लोगों से मास्क पहनकर जरूरी होने पर ही घर से निकलने की सलाह दी है। सीमावर्ती इलाकों में अलर्ट जारी कर दूसरे राज्य से बिना ई-पास के प्रवेश को बैरिकेडिंग लगाकर रोका जा रहा है। धनबाद में राजनीतिक दलों का सार्वजनिक कार्यक्रम रोक दिया गया है। धर्मशाला, सामुदायिक भवनों की बुकिंग पर रोक दी गई है। गोड्डा में अलर्ट जारी किया गया है।

 मास्क नहीं पहनने पर धनबाद के बरोरा में 13 व जमशेदपुर में 46 लोगों को पुलिस ने पकड़ा। स्ट्रीट फूड का ठेला लगाने वालों को गिरफ्तार किया गया। पुलिस ने सड़क जाम करने वाले लोगों को पीटा भी है।  पलामू, गढ़वा, लातेहार, चतरा, कोडरमा, सिमडेगा, गुमला में भी पुलिस-प्रशासन ने वाहनों की सघन जांच तेज करके बिना मास्क और हेलमेट वालों का चालान काटा।

दो ट्रेनें रद्द : रेलवे ने झारखंड सरकार के अनुरोध पर रांची-पटना जनशताब्दी स्पेशल ट्रेन को रद्द कर दिया गया है। यह ट्रेन 13 जुलाई से रांची नहीं आएगी। इसका परिचालन केवल पटना-गया स्टेशनों के बीच होगा। गया से रांची के बीच यह रद्द रहेगी। इसी प्रकार दानापुर-टाटा सुपर फास्ट ट्रेन को भी रद्द कर दिया गया है। दोनों ट्रेनों को रद्द करने की मांग राज्य सरकार की ओर से कई दिनों से की जा रही थी। दानापुर और पटना से आने वाली इन ट्रेनों से एक बार में दो से तीन हजार लोग आवागमन कर रहे थे। सरकार का मानना है कि इन ट्रेनों का परिचालन बंद होने से संक्रमण पर नियंत्रण हो सकेगा। 

डॉक्टर की पर्ची के बिना कोरोना जांच होगी : कोरोना जांच के लिए अब किसी तरह के चिकित्सक की पर्ची जरूरी नहीं है। कोई भी व्यक्ति जरूरत के अनुसार चिह्नित नमूना संग्रह केद्र (स्वाब कलेक्शन सेंटर) में अपना सैंपल देकर जांच करा सकता है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन, झारखंड के अभियान निदेशक डॉ शैलेश कुमार चौरसिया ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिया है।

बंगाल से लगनेवाली धनबाद की सीमा सील  : पश्चिम बंगाल से लगी धनबाद की सीमा को सील करने का आदेश डीसी ने जारी किया है। मैथन, बराकर व सिंदरी की सीमाएं सील की जा रही हैं। मैथन में झारखंड-बंगाल बॉर्डर को गुरुवार रात साढ़े दस बजे से पुलिस ने सील कर दिया है। बिना पास किसी को भी झारखंड क्षेत्र में प्रवेश पर रोक लगा दी गई है। एसडीपीओ विजय कुशवाहा के नेतृत्व में बॉर्डर पर जांच अभियान चलाया गया। एसडीपीओ ने बताया कि कोरोना की बढ़ती रफ्तार को रोकने के उद्देश्य से पूर्व में निर्गत आदेश को आज से लागू किया गया है। उन्होंने बताया कि पूर्व की भांति धनबाद जिला में प्रवेश के लिए पास अनिवार्य कर दिया गया है। उन्होंने सभी से अनुरोध किया कि विधि सम्मत पास लेकर आने पर ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। आवश्यक सामग्री लदे सहित अन्य मालवाहक वाहनों को इससे छूट दी गई है, जबकि यात्री वाहनों को पास लेकर आने पर ही प्रवेश करने की अनुमति होगी। बॉडर पर चेकिंग अभियान में एसडीपीओ विजय कुमार कुशवाहा के आलावा मैथन ओपी के एसआई अजय सिंह एवं पुलिस बल शामिल है।
  

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Patna-Ranchi Jan Shatabdi and Danapur-Tata Superfast trains canceled in Jharkhand from July 13