Naxalites may attack police impostering Kanwarias disclosure in Intelligence report - इंटेलिजेंस रिपोर्ट : कांवरिया वेश में पुलिस को निशाना बना सकते हैं नक्सली DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

इंटेलिजेंस रिपोर्ट : कांवरिया वेश में पुलिस को निशाना बना सकते हैं नक्सली

naxalite  symbolic image

कांवरिया के वेश में नक्सली पुलिस बलों पर हमला कर सकते हैं। नक्सल प्रभावित जिले के प्रमुख रास्तों का 16 जुलाई तक जांच कराने का निर्देश दिया गया है। सुल्तानगंज-तारापुर के बीच 29 जून को कांवरिया पथ के पास आईईडी बम मिलने के बाद पुलिस मुख्यालय ने सुरक्षा कड़ी करने का आदेश दिया है। जोनल आईजी ने सुरक्षा को लेकर पूर्वी बिहार के जमुई, मुंगेर, बांका और भागलपुर जिले के एसएसपी/एसपी को पत्र लिखकर अलर्ट किया है।

नक्सल प्रभावित जमुई जिले के बटिया और मुंगेर जिले के गंगटा जंगल के रास्ते काफी संख्या में बाहरी कांवरियों का सुल्तानगंज में आगमन होता है। एसएसपी/एसपी को कांवरियों की सुरक्षा सुनिश्चित कराने का निर्देश है। जोनल आईजी विनोद कुमार ने 14 से 16 जुलाई तक नक्सल प्रभावित कांवरिया पथ की जांच के लिए एसपी को पत्र लिखा है। जमीन के भीतर विस्फोटक पदार्थ की विशेष उपकरण से जांच करने को कहा गया है। इसके लिए बम निरोधी दस्ते के साथ एसएसबी, सीआरपीएफ, एसटीएफ और सीआईएटी जवानों से सहयोग लेने को कहा है, ताकि 17 जुलाई से शुरू हो रहे श्रावणी मेला में आगे कोई परेशानी नहीं हो सके। एसएसपी ने सुल्तानगंज मेला क्षेत्र और 12 किमी कांवरिया पथ की जांच रविवार को करा लेने की तैयारी की है। नक्सली हमले की आशंका के मद्देनजर ड्यूटी पर तैनात पदाधिकारी और जवानों को अलर्ट रहने के लिए कहा है। सुरक्षा के लिए पुलिस पोस्ट के पास मोर्चा बनाने का निर्देश दिया है। 

जीप के बदले बाइक से गश्ती कराने का निर्देश

नक्सल प्रभावित इलाके और कांवरिया पथ पर जीप से गश्ती कराने में परहेज करने को कहा गया है। नक्सली कार्रवाई से बचने के लिए बाइक से पेट्रोलिंग सुनिश्चत कराने का निर्देश दिया गया है। गश्ती के दौरान पुलिस को अलर्ट रहने और बम निरोधी दस्ते को तैनात कराने को कहा गया है, ताकि सूचना पर तुरंत कार्रवाई की जा सके। नक्सल इलाके में केन्द्रीय बलों की तैनाती कर सुरक्षा मजबूत करने का निर्देश दिया गया है।

लावारिस वस्तु पर रखें नजर

कांवरिया पथ पर लावरिस वस्तु पर नजर रखने को कहा गया है। इसके लिए लाउडस्पीकर से प्रचार और कांवरियों को जागरूक करने का निर्देश दिया गया है। मेला क्षेत्र या कांवरिया पथ पर संदिग्ध व्यक्ति मिलने पर उसकी तुरंत जांच पड़ताल कर सख्त कार्रवाई का निर्देश दिया गया है। 

एटीएस की टीम कर रही जांच

कांवरिया पथ पर आईईडी बम मिलने के बाद आतंकवाद निरोधी दस्ते की टीम को जांच के लिए मुंगेर और भागलपुर में तैनात किया गया है। एटीएस टीम बम के पीछे भागलपुर कनेक्शन की जांच कर रही है। श्रावणी मेला तक एटीएस की टीम को तैनात रहने का निर्देश दिया गया है। 

एसएसपी भागलपुर आशीष भारती ने कहा, तारापुर में आईईडी बम मिलने के बाद सुल्तानगंज कांवरिया मेला में सुरक्षा कड़ी रहेगी। कांवरिया पथ की जांच के लिए बम निरोधी दस्ते की टीम पहुंच गई है। 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Naxalites may attack police impostering Kanwarias disclosure in Intelligence report