ट्रेंडिंग न्यूज़

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडझारखंड में वीडियो गेम खेलने के दौरान नाबालिग ने लगाई फांसी, घर पर नहीं थे माता पिता

झारखंड में वीडियो गेम खेलने के दौरान नाबालिग ने लगाई फांसी, घर पर नहीं थे माता पिता

पश्चिमी सिंहभूम जिले के चक्रधरपुर में वीडियो गेम में हारने से परेशान 14 वर्षीय एक बच्चे ने फांसी लगाकर जान दे दी। यह लड़का डीपीएस के आठवीं क्लास का छात्र था। बताया जाता है कि लड़के ने वीडियो गेम देखते

झारखंड में वीडियो गेम खेलने के दौरान नाबालिग ने लगाई फांसी, घर पर नहीं थे माता पिता
Krishna Singhहिंदुस्तान,जमशेदपुरSat, 26 Nov 2022 12:17 AM

इस खबर को सुनें

0:00
/
ऐप पर पढ़ें

चक्रधरपुर में वीडियो गेम खेलने के दौरान 14 वर्षीय एक बच्चे ने फांसी लगाकर जान दे दी। यह लड़का आठवीं क्लास का छात्र था। जब लोग दरवाजा तोड़कर कमरे में पहुंचे तो फंदे से लटकती लाश के सामने कंप्यूटर पर वीडियो गेम ऑन था। बच्चे की मां डीपीएस में टीचर हैं जबकि पिता चक्रधरपुर रेल मंडल के सीनियर डीएससी ओंकार सिंह के स्टेनो हैं। घटना के वक्त बच्चा घर में अकेला था। लड़का तबीयत खराब होने की बात कह कर स्कूल नहीं गया था। घटना चक्रधरपुर रेलवे कॉलोनी में हुई।

माता-पिता कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं
घटना के कारण बदहवास माता-पिता कुछ भी बोलने की स्थिति में नहीं हैं। पुलिस इस मामले की छानबीन कर रही है। घटना के समय शिक्षिका मां डीपीएस स्कूल में कक्षा ले रही थीं। घटना शुक्रवार को मेसो कार्यालय के पास रेलवे कॉलोनी के क्वार्टर संख्या जे 83/2 की है। नाबालिग भी डीपीएस का छात्र था। शव को रेलवे अस्पताल के शवगृह में रखा गया है। 

दोपहर में घर आए पिता तो हुई जानकारी  
पिता श्रीधर दोपहर ढाई बजे जब लांच पर घर आये तो फांसी के फंदे पर बेटे का लटकता शव देख हक्का-बक्का रह गए। आनन-फानन में बच्चे के शव को रेलवे अस्पताल ले जाया गया जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। चक्रधरपुर पुलिस परिजनों से घटना के बारे में जानकारी ले कर छानबीन कर रही है। 

किचन की चिटकनी से लटक रहा था शव 
पिता श्रीधर लंच के लिए जब घर लौटे तो उनके बेटे का शव किचन की चिटकनी से लगे फंदे से लटक रहा था। घटना की सूचना तत्काल आरपीएफ और चक्रधरपुर थाना को दी गई। पुलिस ने बताया कि रेल मंडल के सीनियर डीएससी ओंकार सिंह के स्टेनो श्रीधर का 13 वर्षीय बेटा घटना के वक्त कमरे में अकेला था। उसकी तबीयत ठीक नहीं थी इसलिए स्कूल नहीं गया था। शिक्षिका मां डीपीएस स्कूल गई थीं। पिता भी अपने काम पर गये थे। 

घटना के दौरान ऑन था वीडियो गेम 
स्थानीय लोगों के अनुसार बच्चे का शव किचन की चिटकनी से लगे फांसी के फंदे से लटक रहा था। वहीं पास में बच्चे के कमरे में कंप्यूटर ऑन था और उसमें वीडियो गेम चल रहा था। बच्चा इतना बड़ा कदम उठा लेगा परिवार के किसी सदस्य ने सोचा नहीं था। बच्चे के फांसी लगाने के पीछे क्या कारण है। अब तक स्पष्ट नहीं हो पाया है। चक्रधरपुर के थाना प्रभारी चंद्रशेखर प्रसाद ने बताया कि बच्चे ने आत्महत्या क्यों की, इसकी वजह जानने के लिए जांच चल रही है।