ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंड25 लाख वाले बयान से पलटे JMM के समीर मोहंती, कांग्रेस जिलाध्यक्ष पर लगाया था बड़ा आरोप

25 लाख वाले बयान से पलटे JMM के समीर मोहंती, कांग्रेस जिलाध्यक्ष पर लगाया था बड़ा आरोप

झामुमो के प्रत्याशी ने सहयोगी दल कांग्रेस के जिला अध्यक्ष आनंद बिहारी दुबे पर चुनाव खर्च के लिए दिए गए 25 लाख रुपए में से अधिकांश राशि हड़पने और चुनाव में षड्यंत्र कर हराने का आरोप लगाया था।

25 लाख वाले बयान से पलटे JMM के समीर मोहंती, कांग्रेस जिलाध्यक्ष पर लगाया था बड़ा आरोप
jmm leader sameer mohanty retracted his statement of rs 25 lakhs big allegation against congress dis
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,रांची जमशेदपुरSun, 16 Jun 2024 07:10 AM
ऐप पर पढ़ें

झामुमो के विधायक और जमशेदपुर लोकसभा चुनाव में इंडिया गठबंधन के प्रत्याशी समीर मोहंती 24 घंटे से भी कम समय में अपने बयान से पलट गए हैं। उन्होंने झामुमो के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत सोरेन या कांग्रेसी नेताओं को कांग्रेस जिलाध्यक्ष आनंद बिहारी दुबे के खिलाफ कोई पत्र लिखने से साफ इनकार किया है। साथ ही उन्हें 25 लाख रुपए देने की बात को भी गलत बताया है।

किसी ने चोरी की लेटर हेड: समीर मोहंती
समीर मोहंती ने कहा कि किसी ने उनके लेटर हेड की नकल की है या फिर चोरी की है, यह जांच का विषय है। क्योंकि उस पर कोई पत्रांक नहीं है। उनका दस्तखत भी सही नहीं है। वे इस मामले की जांच करा दोषी को कड़ी सजा दिलाएंगे। बहरागोड़ा के विधायक ने ये बातें शनिवार को सर्किट हाउस में आनन-फानन में बुलाए गए प्रेस कांफ्रेंस में कही।

पैसा देने का कोई सवाल नहीं: मोहंती
गौरतलब है कि समीर मोहंती ने शुक्रवार को खुद पूर्व सीएम हेमंत सोरेन को लिखे पत्र को मीडिया को जारी किया था। उनके बयान की रिकार्डिंग भी मीडिया संस्थानों के पास है। अब विधायक ने कहा कि वे एक साधारण परिवार से हैं और कम संसाधन में चुनाव लड़े। ऐसे में किसी को पैसा देने की बात का कोई सवाल नहीं है। आरोप लगाया कि कांग्रेस से उनके संबंध को खराब करने का यह प्रयास है। गठबंधन बेहतर ढंग से चल रहा है। चुनाव में संतोषजनक परिणाम को कोई एक दोषी नहीं है।

षड्यंत्र का शक
एक सवाल के जवाब में विधायक ने कहा कि ऐसा हो सकता है कि कांग्रेस के ही किसी ने दुबे के खिलाफ षड्यंत्र रचा हो। जांच होने तक वे इस पर कुछ स्पष्ट नहीं कह सकते। उन्होंने गठबंधन दल के सभी नेताओं को चुनाव में उनकी मदद कर अपनी जिम्मेदारी निभाने के लिए धन्यवाद किया। इस मौके पर विधायक मंगल कालिंदी और झामुमो के वरिष्ठ नेता शेख बदरुद्दीन भी मौजूद थे।

कांग्रेस के जिलाध्यक्ष पर लगाया था आरोप
गठबंधन के घटक झामुमो के प्रत्याशी समीर मोहंती ने सहयोगी दल कांग्रेस के जिला अध्यक्ष आनंद बिहारी दुबे पर चुनाव खर्च के लिए दिए गए 25 लाख रुपए में से अधिकांश राशि हड़पने और चुनाव में षड्यंत्र कर हराने का आरोप लगाया था। उन्होंने ये गंभीर आरोप पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष हेमंत को 12 जून को लिखी चिट्ठी के माध्यम से लगाया। अपने विधायक वाले लेटर हेड पर लिखी दो पेज की चिट्ठी का हवाला देते हुए कहा था कि कांग्रेस जिलाध्यक्ष आनंद बिहारी दुबे ने चुनाव में गठबंधन एवं पार्टी विरोधी काम कर विरोधी पक्ष को लाभ पहुंचाया है। उन्होंने बताया था कि चुनावी रणनीति के तहत पूर्वी जमशेदपुर विधानसभा के तमाम बूथों के मैनेजमेंट की जिम्मेदारी उन्होंने कांग्रेस के जिला अध्यक्ष आनंद बिहारी दुबे को सौंप दी थी।

रैली के लिए 25 लाख देने की बात कही थी
समीर मोहंती ने कहा था कि प्रति बूथ 6000 रुपए की दर से बूथ खर्च के अलावा कार्यक्रम और रैली के लिए कांग्रेस के जिलाध्यक्ष को कुल 25 लाख रुपए दिए थे। मोहंती के अनुसार दुबे का कर्तव्य था कि वह गठबंधन धर्म का पालन करते हुए तमाम सहयोगी पार्टियों की कार्यकर्ताओं के साथ सामंजस्य स्थापित करते हुए आगे बढ़ते। परंतु उन्होंने झामुमो कार्यकर्ताओं की सरासर अनदेखी की, जिसके कारण बाद में उन्हें अतिरिक्त राशि का इंतजाम करना पड़ा।