ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडकल्पना लेंगी विधायक पद की शपथ, झारखंड में नेतृत्व परिवर्तन से लेकर मंत्रिमंडल विस्तार की भी चर्चा

कल्पना लेंगी विधायक पद की शपथ, झारखंड में नेतृत्व परिवर्तन से लेकर मंत्रिमंडल विस्तार की भी चर्चा

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन के विस उपचुनाव जीतने के बाद राज्य में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है। नेतृत्व परिवर्तन से लेकर मंत्रिमंडल विस्तार की चर्चा चल रही है।

कल्पना लेंगी विधायक पद की शपथ, झारखंड में नेतृत्व परिवर्तन से लेकर मंत्रिमंडल विस्तार की भी चर्चा
pti05-21-2024-000168b-0 jpg
Subodh Mishraहिन्दुस्तान,रांचीSun, 09 Jun 2024 10:42 AM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की पत्नी कल्पना सोरेन के विधानसभा उपचुनाव जीतने के बाद राज्य में राजनीतिक सरगर्मी बढ़ गई है। कल्पना सोरेन के विधायक बनने से राजनीतिक गलियारों में नेतृत्व परिवर्तन से लेकर मंत्रिमंडल विस्तार तक पर चर्चा हो रही है।

गांडेय विधानसभा उप चुनाव में नव-निर्वाचित विधायक कल्पना सोरेन सोमवार को झारखंड विधानसभा की सदस्य के रूप में शपथ ले सकती हैं। झारखंड विधानसभा के अध्यक्ष रबींद्र नाथ महतो उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिला सकते हैं। इस मौके पर मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन समेत झामुमो, कांग्रेस और राजद कोटे के मंत्रीगण भी मौजूद रहेंगे।

कल्पना सोरेन के विधायक बनने से राजनीतिक गलियारों में अटकलें तेज हो गई हैं। नेतृत्व परिवर्तन से लेकर मंत्री बनाने तक की बात हो रही है। वर्तमान में झारखंड सरकार में एक मंत्री का पद खाली है। अगर नेतृत्व में कोई बदलाव नहीं हुआ तो कल्पना सोरेन को मंत्री बनाया जा सकता है।

वहीं, टेंडर मैनेज करने के मामले में गिरफ्तार कांग्रेस कोटे के मंत्री आलमगीर से उनके विभाग ले लिए गए हैं। ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि राज्य सरकार जल्द ही मंत्रिमंडल विस्तार करेगी। फिलहाल उनके विभागों को मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने अपने पास रखा है। मंत्री बनने के रेस में महगामा की विधायक दीपिका पांडेय सिंह सबसे आगे चल रही हैं।

बता दें कि जमीन घोटाले से जुड़े एक मामले में जेल जाने से पहले राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेने ने इस्तीफा दे दिया था। उसके बाद सीएम पद के लिए उनकी पत्नी कल्पना सोरेन का नाम जोरशोर से उछला था। लेकिन, पार्टी ने आखिरकार अपने वरिष्ठ नेता चंपई सोरेन को मुख्यमंत्री बनाने का फैसला किया। अब उपचुनाव जीतने के बाद एक बार फिर सीएम पद के लिए कल्पना सोरेन के नाम की चर्चा जोरों पर है।