ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में मॉनसून दो हफ्ते लेट, कब तक करना पड़ेगा बारिश का इंतजार; IMD ने बताया मौसम का ताजा हाल

झारखंड में मॉनसून दो हफ्ते लेट, कब तक करना पड़ेगा बारिश का इंतजार; IMD ने बताया मौसम का ताजा हाल

Jharkhand weather forecast: झारखंड में हवा के रुख में परिवर्तन हो रहा है। इसके कारण राज्य के पूर्वी हिस्से संताल और कोल्हान समेत रांची में भी बादल छाए हुए हैं।

झारखंड में मॉनसून दो हफ्ते लेट, कब तक करना पड़ेगा बारिश का इंतजार; IMD ने बताया मौसम का ताजा हाल
heavy rainfall in these states as imd rain severe heat wave alert in northwest india till may 22
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,रांचीMon, 17 Jun 2024 03:02 PM
ऐप पर पढ़ें

Jharkhand weather forecast: झारखंड में मॉनसून का प्रवेश 23 से 25 जून के बाद ही होने के आसार हैं। यह राज्य में सामान्य प्रवेश की तुलना में करीब दो हफ्ते विलंब है। राज्य में मॉनसून के प्रवेश की सामान्य स्थिति 10 से 15 जून रहती है। ऐसे में अभी भी करीब एक हफ्ते मॉनसून का इंतजार करना पड़ेगा।

मॉनसून की एंट्री कब
मौसम विभाग रांची के वैज्ञानिक अभिषेक आनंद के अनुसार पिछले 24 घंटों के दौरान मॉनसून की गतिविधि में कोई बदलाव नहीं हुआ है और अगले पांच दिनों के दौरान बिहार और बंगाल के कुछ हिस्सों तक ही प्रवेश की संभावना बन रही है। इन दोनों राज्यों में प्रवेश करने के बाद ही झारखंड में प्रवेश होगा। वह भी पाकुड़ और कोल्हान के पूर्वी सिंहभूम के रास्ते प्रवेश करेगा। इससे पहले भीषण गर्मी का प्रकोप जारी रहेगा। ऐसे में 23 से 25 जून के बाद मॉनसून की एंट्री की संभावना है।

कुछ हिस्सों में बारिश, लेकिन गर्मी जारी
मौसम विभाग के अनुसार, हवा के रुख में परिवर्तन हो रहा है। इसके कारण राज्य के पूर्वी हिस्से संताल और कोल्हान समेत राजधानी में भी बादल छाए हुए हैं। रांची के कुछ हिस्से में छिटपुट बारिश हुई है, लेकिन पलामू, गढ़वा और आसपास के जिलों में भीषण गर्मी जारी है।

इन इलाकों में भीषण गर्मी का अलर्ट 
वहीं रांची का अधिकतम तापमान 39 डिग्री दर्ज किया गया। पूर्वानुमान के मुताबिक पलामू, गढ़वा और आसपास के जिलों में अगले दो दिनों तक भीषण गर्मी का ऑरेंज अलर्ट जारी रहेगा। शेष जिलों में यलो अलर्ट जारी रहेगा। राजधानी रांची समेत पश्चिम बंगाल से सटे जिलों में बादल छाए रहने से तापमान में मामूली गिरावट तो जरूर आई है, लेकिन उमसभरी गर्मी बढ़ गई है। बादल छाने के कारण रांची का अधिकतम तापमान पिछले 24 घंटों के दौरान दो डिग्री नीचे गिरा है।

इन इलाकों में बारिश की भविष्यवाणी
मौसम विभाग के अनुसार, राजधानी रांची समेत आसपास के जिलों में अगले 24 घंटों के दौरान भी बादल छाएंगे और दोपहर बाद गरज के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है। जबकि, 18 जून को सामान्य तौर पर बादल छाएंगे और कहीं-कहीं गरज के साथ हल्की बारिश होने का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है।

मॉनसून प्रक्रिया में बदलाव नहीं
मौसम वैज्ञानियों के अनुसार, पिछले 24 घंटे के दौरान मॉनसून की गतिविधि में कोई बड़ा बदलाव नहीं हुआ है। अगले पांच दिनों के दौरान बिहार और पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों तक ही प्रवेश की संभावना बन रही है। इन दोनों राज्यों में प्रवेश करने के बाद यह झारखंड में प्रवेश करेगा। यह पाकुड़ जिला तथा पूर्वी सिंहभूम के रास्ते यह झारखंड में प्रवेश करेगा।

लू से नहीं थम रही मौत, पलामू में चार और की गई जान
भीषण गर्मी और लू के कारण रविवार को भी चार लोगों की मौत हो गई। ये मौतें पलामू जिले के सतबरवा अंचल में हुईं। मृतकों में पूर्व फुटबॉल खिलाड़ी 52 वर्षीय मंतोष राम शामिल हैं। रविवार को राज्य के आठ जिलों में अधिकतम तापमान 42 से 45 डिग्री के बीच रहा। पलामू का तापमान सबसे अधिक 44.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। गढ़वा का 43.8 और कोडरमा का 43.0 डिग्री रहा।

जिलों में रविवार को का तापमान डिग्री में

मेदिनीनगर 44.5

गढ़वा 43.8

कोडरमा 43.0

गिरिडीह 42.9

गोड्डा 42.3

देवघर 42.1

रामगढ़ 42.6

बोकारो 42.0

जमशेदपुर 38.8

रांची 39.0