ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडझारखंड में भी ठंड की दस्तक, अब और बढ़ेगी कंपकंपी, जानिए अगले पांच दिन क्या रहेगा हाल

झारखंड में भी ठंड की दस्तक, अब और बढ़ेगी कंपकंपी, जानिए अगले पांच दिन क्या रहेगा हाल

गुरुवार दोपहर में अधिकतर समय बादल छाए रह सकते हैं। इस दौरान मौसम शुष्क रहने की संभावना है। अधिकतम व न्यूनतम तापमान में किसी बड़े बदलाव की संभावना नहीं है। शाम के मौसम में ठंड रहेगी।

झारखंड में भी ठंड की दस्तक, अब और बढ़ेगी कंपकंपी, जानिए अगले पांच दिन क्या रहेगा हाल
Aditi Sharmaहिंदुस्तान,जमशेदपुरThu, 30 Nov 2023 08:42 AM
ऐप पर पढ़ें

जमशेदपुर शहर और आसपास के इलाके में अब कोहरे का असर दिखेगा। ठंड ने भी दस्तक दे दी है। न्यूनतम तापमान में उतार-चढ़ाव का क्रम लगातार बना हुआ है। मौसम विभाग के अनुमान के मुताबिक, चाईबासा, जमशेदपुर और सरायकेला क्षेत्र में बुधवार को सुबह में धुंध व कोहरा छाया रहा। शहर का अधिकतम तापमान 31.9 और न्यूनतम तापमान 16.8 डिग्री दर्ज किया गया।

गुरुवार को दोपहर में अधिकतर समय बादल छाए रह सकते हैं। इस दौरान मौसम शुष्क रहने की संभावना है। अधिकतम व न्यूनतम तापमान में किसी बड़े बदलाव की संभावना नहीं है। शाम के मौसम में ठंड रहेगी। मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार, चार दिसंबर तक उत्तरी पूर्वी हिस्से में बादल छाए रहेंगे।

30 नवंबर को राज्य के उत्तर पूर्वी हिस्से में कहीं-कहीं दिन में बादल छाने की संभावना है। वहीं, कुछ हिस्सों में हल्के दर्जे की बारिश हो सकती है। इस हिस्से में धनबाद, देवघर, दुमका, गिरिडीह, गोड्डा, जामताड़ा, साहेबगंज जिला शामिल हैं। एक दिसंबर से कहीं-कहीं बादल छाने की बात कही गई है। एक दिसंबर से 4 दिसंबर तक आंशिक बादल का असर देखा जा सकता है। कोहरे के कारण लोगों को अधिक ठंड का अहसास होगा। तीन और चार दिसंबर को बादल गहरा सकते हैं। आने वाले पांच दिन तक राज्य के न्यूनतम तापमान में गिरावट संभव नहीं है।

विशेष पदाधिकारी ने लिया आश्रयगृहों का जायजा

जमशेदपुर अधिसूचित क्षेत्र समिति के अंतर्गत सभी छह आश्रयगृहों का औचक निरीक्षण अक्षेस के विशेष पदाधिकारी अजीत कुमार एवं नगर मिशन प्रबंधक राकेश आनन्द द्वारा किया गया।

आश्रय गृहों के केयरटेकर के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिया गया। ठंड को देखते हुए लोगों को साकची मार्केट, बिष्टूपुर मार्केट, एमजीएम अस्पताल में फुटपाथ पर सोने वाले लोगों को आश्रय गृह की सुविधा एवं लाभ के बारे में बताने का निर्देश दिया गया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें