ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में तूफानी हवाओं के साथ झमाझम बारिश का यलो अलर्ट, कब तक खराब रहेगा मौसम?

झारखंड में तूफानी हवाओं के साथ झमाझम बारिश का यलो अलर्ट, कब तक खराब रहेगा मौसम?

Jharkhand Weather Report: मौसम विभाग ने झारखंड में तूफानी हवाओं के साथ झमाझम बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है। इस रिपोर्ट में जानें झारखंड में कब से कब तक खराब रहेगा मौसम का मिजाज...

झारखंड में तूफानी हवाओं के साथ झमाझम बारिश का यलो अलर्ट, कब तक खराब रहेगा मौसम?
Krishna Singhलाइव हिन्दुस्तान,रांचीSat, 25 May 2024 03:03 PM
ऐप पर पढ़ें

Jharkhand Weather News: एक ओर जहां देश के कई हिस्सों में भीषण गर्मी और लू कहर बरपा रही है, वहीं झारखंड में मौसम कूल-कूल रहने वाला है। मौसम विभाग के मुताबिक, झारखंड के विभिन्न हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के आसार हैं। मौसम विभाग ने झारखंड में 25 से 28 मई तक आंधी और बारिश यलो अलर्ट जारी किया है। हवा की रफ्तार 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे रह सकती है।

मौसम विभाग की ओर से जारी ऑल इंडिया वेदर बुलेटिन के मुताबिक, दक्षिण-पश्चिम मानसून दक्षिण-पश्चिम बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों, दक्षिण-पूर्व बंगाल की खाड़ी के बाकी बचे हिस्सों, मध्य बंगाल की खाड़ी के कुछ और हिस्सों और उत्तर-पूर्व बंगाल की खाड़ी के कुछ हिस्सों में आगे बढ़ा है। यही नहीं एक अन्य साइक्लोनिक सर्दकुलेशन दक्षिण-पूर्व राजस्थान और उसके आसपास के क्षेत्रों पर स्थित है। 

यही नहीं एक ट्रफ रेखा दक्षिण-पूर्व राजस्थान पर बने साइक्लोनिक सर्कुलेशन से एमपी होते हुए छत्तीसगढ़ तक फैली है। दक्षिण केरल पर भी एक साइक्लोनिक सर्कुलेशन बना है। इन वेदर सिस्टम का असर झारखंड में भी हो रहा है। इससे 25 और 28 मई को झारखंड में गरज, चमक और तेज हवाओं के साथ हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है। इस दौरान हवा की रफ्तार 30 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे रहेगी।

न्यूज एजेंसी पीटीआई-भाषा की रिपोर्ट के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी पर बना गहरा दबाव अगले 24 घंटे के दौरान चक्रवाती तूफान में तब्दील हो सकता है। यह 26 मई की रात को 110-120 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के समुद्र तटों से टकरा सकता है। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि यह तूफान 135 किलोमीटर प्रति घंटे तक की रफ्तार पकड़ सकता है। इसके प्रभाव से 26 से 27 मई के दौरान पश्चिम बंगाल और उत्तरी ओडिशा के तटीय जिलों में भारी बारिश होगी।