ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडझारखंड में इस दिन से होगी बारिश, लेकिन आज और कल चलेगी लू; मौसम विभाग का रेड अलर्ट

झारखंड में इस दिन से होगी बारिश, लेकिन आज और कल चलेगी लू; मौसम विभाग का रेड अलर्ट

Jharkhand weather forecast: झारखंड के जामताड़ा, पाकुड़, साहिबगंज और सिमडेगा का तापमान 40 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। देश के पश्चिमी भागों से आ रही गर्म लहर के कारण हीटवेव की स्थिति बन गई है।

झारखंड में इस दिन से होगी बारिश, लेकिन आज और कल चलेगी लू; मौसम विभाग का रेड अलर्ट
Devesh Mishraहिन्दुस्तान,रांचीThu, 13 Jun 2024 01:57 PM
ऐप पर पढ़ें

Jharkhand weather forecast: झारखंड में जून जानलेवा बन गया है। पलामू, गढ़वा, सरायकेला व पूर्वी-पश्चिमी सिंहभूम में अगले दो दिन लू का रेड अलर्ट है। वहीं, लातेहार और चतरा में ऑरेंज एवं रांची समेत अन्य इलाकों में हीट वेव का यलो अलर्ट जारी किया गया है। हालांकि 17 जून से रांची समेत राज्यभर का मौसम करवट लेगा और हल्की बारिश की संभावना है। इसके चलते प्रचंड गर्मी से राहत मिलेगी। मौसम विभाग के अनुसार देश के पश्चिमी भाग से आ रही गर्म लहर के कारण हीटवेव की स्थिति बनी है।

पलामू का पारा 45 पार, दो की मौत
एक बार फिर पलामू का तापमान बुधवार को 45.6 डिग्री पहुंच गया है। भीषण गर्मी की वजह से पलामू में एक और रामगढ़ के गोला में एक व्यक्ति की मौत हो गई। कोल्हान के जिलों में भी तापमान भी बढ़ रहा है। उधर, गढ़वा में 45.3, सरायकेला 44.1, जमशेदपुर 44.0, रामगढ़ 43.7 डिग्री रहा। रांची का अधिकतम तापमान 40.2 डिग्री दर्ज किया गया। राज्य में 12 जिलों का तापमान 42 डिग्री से अधिक रहा। पूरे झारखंड में हीटवेव का यलो अलर्ट रहेगा।

बारिश पर क्या अपडेट
वहीं जामताड़ा, पाकुड़, साहिबगंज और सिमडेगा का तापमान 40 डिग्री से नीचे दर्ज किया गया। मौसम विभाग के अनुसार देश के पश्चिमी भागों से आ रही गर्म लहर के कारण हीटवेव की स्थिति बन गई है। इससे हवा के रुख में परिवर्तन होने के साथ ही मौसम बदलाव होगा। वहीं अगले दो दिन रांची समेत राज्य के दक्षिणी भागों में कहीं कहीं आंधी के साथ वर्षा की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक, 17 जून से रांची समेत राज्यभर का मौसम करवट लेगा और हल्की बारिश की संभावना है।

संकट झुलसाती गर्मी में रुला रही बिजली कटौती
रांची समेत राज्यभर में झुलसाती गर्मी के बीच बिजली कटौती ने भी रुलाया। अधिकतर समस्या कहीं लोड अधिक रहने तो कहीं लोकल फॉल्ट और ट्रांसफॉर्मर में खराबी को लेकर रही। इस वजह से लोगों को घंटों बिजली के इंतजार में गुजारना पड़ा। इधर, रांची में प्रत्येक फीडर अंतर्गत कई मोहल्लों में एक से दो घंटे की बिजली कटौती हुई। रांची में फुल लोड बिजली मिलने के बाद भी ओवरलोड और ट्रांसफॉर्मर का फ्यूज उड़ना जारी रहा। रांची विद्युत एरिया बोर्ड ने निर्बाध आपूर्ति करने को लेकर सभी विद्युत प्रमंडल को निर्देश दिया है। शट डाउन बिना अनुमति के नहीं लेने का निर्देश दिया है।