DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  झारखंड के प्राइवेट हॉस्पिटल में अब 50%बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व, सभी DC को हेल्थ सचिव का आदेश

झारखंडझारखंड के प्राइवेट हॉस्पिटल में अब 50%बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व, सभी DC को हेल्थ सचिव का आदेश

रांची लाइव हिन्दुस्तानPublished By: Yogesh Yadav
Mon, 12 Apr 2021 10:13 PM
झारखंड के प्राइवेट हॉस्पिटल में अब 50%बेड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व, सभी DC को हेल्थ सचिव का आदेश

झारखंड के सभी प्राइवेट हॉस्पिटल में अब 50 फीसदी बेड कोरोना के मरीजों के लिए आरक्षित होंगे। राज्य में तेजी से बढ़ रहे संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार ने इसका निर्णय लिया है। हेल्थ सेक्रेटरी केके सोन ने सोमवार को इस संबंध में सभी डीसी को निर्देश जारी कर दिया है। 

हेल्थ सेक्रेटरी ने अपने निर्देश में कहा कि राज्य में लगातार मरीजों की संख्या बढ़ रही है। इसे ध्यान में रखते हुए सभी प्राइवेट हॉस्पिटल के कुल बेड का 50 फीसदी कोविड के लिए आरक्षित रखने की जरूरत है। इसके साथ ही उन्होंने सभी प्राइवेट हॉस्पिटल को कोविड के मरीजों के इलाज का प्राथमिकता देने का निर्देश दिया है। हेल्थ सेक्रेटरी ने सभी डीसी से तुरंत बैठक कर इसे लागू करने का आदेश दिया है।

झारखंड में कोरोना संक्रमण के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। ऐसे में मरीजों की संख्या के हिसाब से अस्पतालों में बेड की उपलब्धता बढ़ाने के लिए सरकार ने यह फैसला लिया है। रांची में हर दिन सबसे अधिक संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। ऐसे में कोरोना के मामले बढ़ने के साथ राजधानी रांची में स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई है। रविवार को कई निजी अस्पतालों में कोविड मरीज बेड के लिए भटकते दिखे। सरकारी अस्पतालों के बाहर लोग अपने-अपने परिजनों को लेकर बिलखते दिखे।

मरीजों को घर से अस्पताल और एक अस्पताल से दूसरे अस्पताल तक पहुंचाने के लिए एंबुलेंस उपलब्ध नहीं थे। शव को अस्पताल पहुंचाने के लिए एंबुलेंस वाहन नहीं मिल रहे थे। परिजन शव को अस्पताल से श्मशान गृह पहुंचाने के लिए बारह-बारह घंटे इंतजार करना पड़ रहा है। कोरोना जांच के लिए सैंपल बढ़ने के साथ रिम्स में दो प्राइवेट अस्पतालों से मदद ली जा रही है।

रांची के इन हॉस्पिटल में हो रहा है इलाज
मेडिका, अंजुमन इस्लामिया हॉस्पिटल, मेदांता अस्पताल, आलम नर्सिंग होम, सैमफोर्ड हॉस्पिटल, हेल्थ प्वाइंट, राज अस्पताल, गुरुनानक अस्पताल, ऑर्किड हॉस्पिटल, सेवा सदन, सेंटेविटा, पल्स, रानी हॉस्पिटल, मां रामप्यारी हॉस्पिटल, रिंची ट्रस्ट अस्पताल, सेवेंथ पाम हॉस्पिटल, एसक्लेपियस हॉस्पिटल, पारस अस्पताल, देवकल हॉस्पिटल, गुलमोहर हॉस्पिटल।

संबंधित खबरें