ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडकैबिनेट विस्तार के बाद चंपाई सरकार में ही दरार, कांग्रेस विधायकों के बागी तेवर; इस वजह से नाराजगी

कैबिनेट विस्तार के बाद चंपाई सरकार में ही दरार, कांग्रेस विधायकों के बागी तेवर; इस वजह से नाराजगी

कांग्रेस के 12 विधायकों की नाराजगी बरकार है। इनमें से 8 विधायक शनिवार की शाम दिल्ली चले गए, जबकि 4 विधायक रविवार को दिल्ली जाएंगे। कांग्रेस कोटे से पुराने चेहरों को ही रिपीट किए जाने से नाराज हैं।

कैबिनेट विस्तार के बाद चंपाई सरकार में ही दरार, कांग्रेस विधायकों के बागी तेवर; इस वजह से नाराजगी
Abhishek Mishraहिन्दुस्तान,रांचीSun, 18 Feb 2024 08:27 AM
ऐप पर पढ़ें

झारखंड कांग्रेस के 12 विधायकों की नाराजगी बरकार है। इनमें से आठ विधायक शनिवार की शाम दिल्ली चले गए, जबकि चार विधायक रविवार को दिल्ली जाएंगे। ये सभी विधायक चंपाई सोरेन सरकार में कांग्रेस कोटे से पुराने चेहरों को ही रिपीट किए जाने से नाराज हैं। विधायकों ने आगामी विधानसभा के बजट सत्र में शामिल होने से भी इनकार कर दिया है।

इधर, शनिवार शाम में मंत्री बसंत सोरेन भी कांग्रेस के नाराज विधायकों को मनाने पहुंचे, लेकिन इसका असर नहीं दिखा। नाराज विधायकों ने अपनी शिकायत कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे तक लिखित रूप से पहुंचा दी है। विधायकों ने एक व्यक्ति एक पद के नियम के लिए डॉ इरफान अंसारी को विधायक दल का नेता बनाने का भी प्रस्ताव दिया है।

इससे पूर्व शनिवार को अपनी मांगों को लेकर दिनभर बागी विधायकों के दिल्ली और जयपुर जाने की चर्चा होती रही। विधायक बिरसा चौक स्थित एक होटल में जुटे। दो दौर की बैठकें भी हुईं।

देर शाम आठ विधायक कुमार जयमंगल, डॉ इरफान अंसारी, दीपिका पांडेय सिंह, अंबा प्रसाद, सोनाराम सिंकू, राजेश कच्छप, भूषण बारा और उमाशंकर अकेला दिल्ली गए। वहीं, चार अन्य विधायक नमन विक्सल कोंगाड़ी, पूर्णिमा नीरज सिंह, रामंचद्र सिंह और शिल्पी नेहा तिर्की रविवार को दिल्ली रवाना होंगे। नमन विक्सल कोंगाड़ी व पूर्णिमा नीरज सिंह अस्वस्थता की वजह से शनिवार को नहीं जा सके।

नाराजगी कांग्रेस अंदरूनी मामला: चंपाई

मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन ने कांग्रेस के नाराज विधायकों पर कहा कि यह कांग्रेस का अंदरूनी मामला है। इसमें वे हस्तक्षेप नहीं करेंगे। 12वें मंत्री की कोई बात नहीं है। बैद्यनाथ राम को मंत्री नहीं बनाए जाने पर चंपाई ने कहा कि झामुमो में सबकुछ ठीक-ठाक है। इसमें कोई दिक्कत नहीं है।

मुख्यमंत्री रविवार को दिल्ली में लोस चुनाव में सीट शेयरिंग को लेकर कांग्रेस नेताओं के साथ मंथन कर सकते हैं। लोस के लिए झामुमो सात कांग्रेस नौ, राजद दो और वामदल का दो सीटों पर दावा है। झामुमो राजमहल, दुमका, चाईबासा, जमशेदपुर, लोहरदगा, कोडरमा और गिरिडीह सीट पर दावा कर रहा है। वहीं, कांग्रेस पार्टी रांची, जमशेदपुर, सिंहभूम, खूंटी, धनबाद, हजारीबाग, पलामू, गोड्डा व कोडरमा से प्रत्याशी देने की मांग कर रही है।

सीएम दिल्ली में, सीट शेयरिंग पर होगी बात

मुख्यमंत्री चंपाई सोरेन और कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष राजेश ठाकुर शुक्रवार को दिल्ली पहुंचे। बताया गया कि चंपाई सोरेन कांग्रेस आलाकमान से लोकसभा चुनाव को लेकर सीट शेयरिंग पर चर्चा करेंगे। दिल्ली प्रवास के दौरान मुख्यमंत्री कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे से मिलकर राज्य की वर्तमान स्थिति पर भी बातचीत करेंगे। इसके अलावा कई अन्य मुद्दों पर भी बात होगी।

 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें