अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

Jharkhand: रांची में 38.4 डिग्री तापमान में 49.3 फीसदी मतदान

राजधानी में चुनावी गर्मी के साथ ही मौसम का पारा भी काफी ऊपर था। रांची के 49.3 फीसदी मतदाताओं ने 38.4 डिग्री की गर्मी झेलकर वोट डाले। मतदान केंद्रों के बाहर कतारें थीं। बुंडू नगर पंचायत के लिए हो रहे मतदान में भी ऐसा ही नजारा था। यहां 72 फीसदी मतदाताओं ने मताधिकार का इस्तेमाल किया। खूंटी में भी 62 फीसदी वोटिंग हुई। रांची के उपायुक्त ने हर मतदान केंद्र पर सबसे पहले मतदान करने वाले मतदाता को प्रशस्ति-पत्र देने की घोषणा कर रखी थी। इसका भी असर दिखा।

राज्यभर में हुआ शांतिपूर्ण मतदान: राज्य के सभी जिलों में निकाय चुनाव शांतिपूर्ण रहे। राज्य पुलिस प्रवक्ता के मुताबिक, चुनाव के दौरान किसी भी जिले से किसी घटना की सूचना नहीं है, जिन 34 शहरों में निकाय चुनाव हुए , वहां मामूली विवाद छोड़ कोई बड़ी वारदात नहीं हुई। राज्य पुलिस ने चुनाव को लेकर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए थे।

रांची में कई जगहों पर मामूली विवाद

रांची में जगन्नाथपुर, गुरूनानक स्कूल, हिंदपीढ़ी के इदरिशिया तंजीम स्कूल, रानीबगान और आदर्श विद्या मंदिर कोकर में मामूली विवाद हुए। जगन्नाथपुर के राजकीय प्राथमिक विद्यालय के बूथ के बाहर दो पार्षद प्रत्याशी व उनके समर्थक आपस में लाठीबाजी कर बैठे। इस दौरान दो समर्थकों को चोट भी आयी है। हालांकि घटना के बाद एसडीओ अंजली यादव मौके पर पहुंचीं। इसके बाद मौके से दोनों के समर्थकों को खदेड़ा गया। दोपहर में गुरुनानक स्कूल में कांग्रेसी नेता शमशेर आलम के बूथ में आने के बाद झामुमो समर्थकों ने हंगामा शुरू कर दिया। इस दौरान थोड़ी देर के लिए मतदान बाधित रहा। पुलिस ने मौके पर हल्का बल प्रयोग भी किया।

संवेदनशील रहे जगन्नाथपुर के पांच बूथ

जगन्नाथ बस्ती के पास राजकीयकृत विद्यालय में वार्ड 37 के मतदान केन्द्र के सभी बूथ को संवेदनशील घोषित किया गया था। इसके बूथ नंबर 7, 8, 10 12 और 13 में प्रत्याशियों के समर्थक कई बार मतदान केन्द्र परिसर में घुस आए। दिन में 11 बजे भी यहां कुछ प्रत्याशियों के स्कूल परिसर में पहुंचने पर हंगामा हो गया था, लेकिन सुरक्षा बलों ने तुरंत इन प्रत्याशियों और उनके समर्थकों को यहां से खदेड़ दिया।

हजारीबाग में विधायक प्रतिनिधि के साथ मारपीट: हजारीबाग के किसान भवन बूथ में विधायक प्रतिनिधि के साथ मारपीट की घटना हुई। हालांकि पुलिस के हस्तक्षेप के बाद मामला शांत हो गया। केवी वीमेंस कॉलेज में धीमी गति से मतदान कराने का आरोप लगाते हुए मतदाताओं ने हंगामा किया।

रांची के तीन बूथों के सभी मतदान कर्मी बदले गए

मतदान की पूर्व संध्या पर वार्ड संख्या 34 के तीन मतदान केंद्रों पर शराब वितरण को लेकर हुए हंगामा को जिला प्रशासन ने गंभीरता से लिया। तीन बूथों के सभी मतदानकर्मियों व पुलिसकर्मियों को बदल दिया गया। तीनों बूथों पर नए मतदानकर्मियों के माध्यम से मतदान संपन्न कराया गया। रविवार की देर शाम वार्ड 34 के डीएवी स्वर्णरेखा स्कूल में बने तीन मतदान केंद्र 11, 12, 13 के मतदानकर्मियों के बीच एक पार्टी प्रत्याशी के शराब व भोजन वितरण का मामला सामने आया था। इसे लेकर दूसरी पार्टी के समर्थकों ने देर रात तक जमकर हंगामा किया था। तीनों बूथों पर मौजूद मतदानकर्मियों के पास से शराब की बोतल भी बरामद की गई थी। जिला प्रशासन ने इसे गंभीरता से लेते हुए मतदान केंद्र के सभी 21 मतदानकर्मी सहित तैनात पुलिस बल को हटाकर दूसरे मतदानकर्मियों से वहां मतदान की प्रक्रिया पूरी की।

 

 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:Jharkhand Municipal Elections 2018