DA Image
Sunday, December 5, 2021
हमें फॉलो करें :

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

हिंदी न्यूज़ झारखंडझारखंड: तालाबों के संरक्षण के लिए राज्य में उठाया जा रहा ये कदम, पूजा त्योहारों के बाद मूर्ति विसर्जन के लिए होगी यह व्यवस्था

झारखंड: तालाबों के संरक्षण के लिए राज्य में उठाया जा रहा ये कदम, पूजा त्योहारों के बाद मूर्ति विसर्जन के लिए होगी यह व्यवस्था

हिन्दुस्तान ब्यूरो,रांचीSudhir Kumar
Sat, 23 Oct 2021 07:12 AM
झारखंड: तालाबों के संरक्षण के लिए राज्य में उठाया जा रहा ये कदम, पूजा त्योहारों के बाद मूर्ति विसर्जन के लिए होगी यह व्यवस्था

शहर के तालाबों में मूर्ति विसर्जन के लिए अब स्थायी कुंड का निर्माण होगा। इसके लिए ऐसे जलाशयों को चिन्हित किया जाएगा जहां सालों से प्रतिमा का विसर्जन किया जा रहा है। इसके अलावा सोसाइटी परिसर में पूजा का आयोजन करने वाले समितियों को अस्थायी कुंड का निर्माण कर स्थापित मूर्ति का विसर्जन करना होगा।

मूर्ति विसर्जन से पहले व मूर्ति विसर्जन के बाद पानी की गुणवत्ता की भी जांच

दरअसल, तालाबों के संरक्षण के लिए एनजीटी के निर्देश के आलोक में नगर विकास एवं आवास विभाग द्वारा रांची नगर निगम के नगर आयुक्त मुकेश कुमार की अध्यक्षता में प्रतिमा विसर्जन पर निगरानी के लिए उप समिति का गठन किया गया है, जो तालाबों व जलाशयों के संरक्षण के लिए काम करेगी।

वहीं, मूर्ति विसर्जन से पहले व मूर्ति विसर्जन के बाद पानी की गुणवत्ता की भी जांच की जाएगी। इसके लिए झारखंड राज्य प्रदूषण बोर्ड अलग से समिति का गठन करेगा। यह समिति विसर्जन से जलाशयों को होने वाले नुकसान को लेकर रिपोर्ट तैयार करेगी। इसके बाद नगर आयुक्त की अध्यक्षता वाली उप समिति को इसकी रिपोर्ट सौंपेगी। इस कार्य के लिए नोडल अधिकारी के रूप में रांची एसडीओ का चयन किया गया है। नगर आयुक्त मुकेश कुमार की अध्यक्षता में शुक्रवार को उप समिति की हुई बैठक में यह भी निर्देश दिए गए कि सोसाइटी परिसर में पूजा का आयोजन करने वाले समितियां साज सज्जा में इस्तेमाल होने वाले कपड़े, फूल माला आदि को एक डस्टबीन में रखेंगे। इस समिति में खूंटी उपायुक्त, रांची एसएसपी, यातायात पुलिस अधीक्षक, प्रदूषण नियंत्रण के क्षेत्रीय पदाधिकारी, कार्यपालक पदाधिकारी खूंटी शामिल हैं।

पूजा समितियों एवं मूर्तिकारों के लिए एक कार्यशाला का आयोजन

झारखंड राज्य प्रदूषण बोर्ड की ओर से जारी गाइडलाइन की जानकारी देने के लिए पूजा समितियों एवं मूर्तिकारों के लिए एक कार्यशाला का आयोजन किया जाएगा। इसमें झारखंड राज्य प्रदूषण बोर्ड के मानकों के आधार पर मूर्ति एवं पंडाल निर्माण एवं विर्सजन के लिए निगम के द्वारा एक निर्देशिका बना कर पूजा समितियों को दिया जाएगा। जो हिन्दी में उन्हें उपलब्ध कराया जाएगा। इसके अलावा इको फ्रेंडली पूजा आयोजन करने वाले समितियों को सम्मानित किया जाएगा। साथ ही जलाशयों एवं तालाबों के जल की गुणवत्ता एवं स्वच्छता बनाये रखने के लिए वार्ड पार्षदों की अध्यक्षता में एक वाटर कंजर्वेशन कमिटी का गठन किया जाएगा।

सामुदायिक भवन के निर्माण कार्यों का जायजा

ईस्ट जेल रोड स्थित बिरसा मुंडा आवास परिसर का शुक्रवार को उप नगर आयुक्त कुंवर सिंह पाहन ने निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने वहां के लोगों के लिए बनाए जा रहे सामुदायिक भवन के निर्माण कार्यों का जायजा लिया। साथ ही बच्चों के लिए पार्क, साइकिल पार्किंग जोन इत्यादि के निर्माण कार्यों की भी जानकारी ली। मौके पर नगर प्रबंधक, नगर अभियान प्रबंधक एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

सब्सक्राइब करें हिन्दुस्तान का डेली न्यूज़लेटर

संबंधित खबरें