DA Image
9 अप्रैल, 2021|11:25|IST

अगली स्टोरी

Jharkhand Budget 2021: किसानों की कर्जमाफी के लिए 1200 करोड़, गुरुजी किचन से 5 रुपए में भरपेट भोजन

झारखंड में विपक्ष के जोरदार हंगामे के बीचसरकार ने बुधवार को अपना बजट पेश कर दिया। लगातार हो रही नारेबाजी और टोका-टाकी के बीच वित्‍त मंत्री रामेश्‍वर उरांव ने किसी तरह अपना बजट भाषण पूरा किया।  झारखंड सरकार ने 91270 करोड़ रुपए का बजट पेश किया है। 

किसानों की कर्ज माफी के लिए 1200 करोड़
बजट भाषण में रामेश्वर उरांव ने बताया कि ग्रामीण विकास, जल संसाधन, कृषि, पशुपालन और सहकारिता विकास के लिए 18 हजार 653 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। जो पिछले साल के मुकाबले लगभग 11 प्रतिशत अधिक है। कृषि ऋण माफी के लिए 1 हजार 200 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है। जबकि पलाश ब्रांड के जरिए एक नई पहचान देकर 2 लाख ग्रामीण महिलाओं की आमदनी में बढ़ोत्तरी सुनिश्चित किया जा रहा है। अब तक लगभग 1 करोड़ रुपए का कारोबार किया गया है और आगामी वित्तीय वर्ष में इस योजना का तेजी से विस्तार किया जाएगा।

दाल-भात के साथ गुरुजी किचन योजना की शुरुआत
मनरेगा योजना के तहत अब 194 की बजाए 225 रुपए मजदूरी मिलेगी। स्वस्थ समाज की परिकल्पना को लेकर गुरुजी किचन योजना नाम की एक नई योजना की शुरुआत वर्ष 2021-22 में की जाएगी। राज्‍य में दालभात केंद्रों के अलावा गुरुजी किचन योजना चलाई जाएगी। इसके तहत पांच रुपए में भोजन दिया जाएगा। जबकि 15 लाख लाभुकों को 5 किलो चावल 1 रुपए की रेट पर दिया जाएगा। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत अनुदानित दर पर धोती, साड़ी और लुंगी भी बांटा जाएगा।

10 आदिवासी छात्रों को विदेश भेजने की योजना
वर्ष 2024 तक राज्य के सभी 58 लाख 95 हजार से अधिक परिवारों को नल जलापूर्ति योजना का लाभ उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है, इसके तहत 2021-22 में कवरेज को 30 प्रतिशत करने का टारगेट फिक्स किया गया है। जलजीवन मिशन के तहत 15 हजार एकल ग्रामीण जलापूर्ति का भी निर्माण किया जा रहा है। वहीं मरांग गोमके जयपाल सिंह मुंडा पारदेशीय छात्रवृत्ति योजना के तहत 10 आदिवासी युवाओं को विदेश में हायर एजुकेशन के लिए भेजा जाएगा। मुख्यमंत्री रोजगार सृजन योजना के अंतर्गत एसटी, एससी, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक और दिव्यांगजन के युवाओं को स्वयं का व्यवसाय शुरू करने के लिए ऋण राशि का 40 प्रतिशत या अधिकतम 5 लाख का अनुदान देने की योजना बनाई गई है।

झारखंड में खुलेगा ओपेन यूनिवर्सिटी
बजट में कुपोषण हटाने की दिशा में साझा पोषण कार्यक्रम की शुरुआत करने और सार्वभौगिक पेंशन योजना शुरू की जाएगी। झारखंड खुला विश्वविद्यालय की स्थापना होगा, वहीं शहरी क्षेत्र को हरा भरा करने के लिए शहरी वानिकी योजना नाम की नई योजना की शुरुआत की जाएगी।

इससे पहले झारखंड विधानसभा में जैसे ही वित्तमंत्री रामेश्वर उरांव ने बजट भाषण शुरू किया तो मुख्य विपक्षी दल भाजपा विधायकों की ओर से भी समानांतर भाषण शुरू कर दिया गया। बीजेपी विधायक नीलकंठ सिंह भी पूरे बजट भाषण के दौरान समानांतर भाषण देते रहे। वहीं वेल में आकर धरना पर बैठे विपक्षी सदस्य बीच-बीच में तालियां बजाकर उनका स्वागत करते रहे। भाजपा विधायक सीपी सिंह को प्रतिकात्मक रूप से विपक्ष की ओर से स्पीकर बनाया गया था। इन सबके बीच रामेश्वर उरांव ने साल 2021-22 का बजट पेश किया।

  • Hindi News से जुड़े ताजा अपडेट के लिए हमें पर लाइक और पर फॉलो करें।
  • Web Title:Jharkhand Budget 2021 1200 crores for loan waiver of farmers food for Rs 5 from Guruji Kitchen