ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडफाइलेरिया की दवा खाने से बिगड़ी 30 बच्चों की तबीयत, परिवारवालों ने जमकर किया हंगामा

फाइलेरिया की दवा खाने से बिगड़ी 30 बच्चों की तबीयत, परिवारवालों ने जमकर किया हंगामा

दवा खिलाने के बाद लगभग 30 बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी। दवा खाने से बच्चों की तबियत बिगड़ने की शिकायत करते हुए गांव में हंगामा शुरू हो गया।

फाइलेरिया की दवा खाने से बिगड़ी 30 बच्चों की तबीयत, परिवारवालों ने जमकर किया हंगामा
Aditi Sharmaहिन्दुस्तान,पाकुड़Mon, 12 Feb 2024 10:42 AM
ऐप पर पढ़ें

 झारखंड में फाइलेरिया की दवा का सेवन करने से बच्चों की बिड़ने का मामला सामने आया है। पाकुड़ सदर प्रखंड के मदनमोहनपुर पंचायत के साहापुर गांव में शनिवार को आंगनबाड़ी केंद्र की सेविका द्वारा सहापुर स्कूल व आंगनबाड़ी केंद्र की छात्र-छात्राओं को फाइलेरिया की दवा लंच खिलाने के बाद खिलाई गई था। दवा खिलाने के बाद लगभग 30 बच्चों की तबीयत बिगड़ने लगी। दवा खाने से बच्चों की तबियत बिगड़ने की शिकायत करते हुए गांव में हंगामा शुरू हो गया।

गांववालों ने ग्रामीण गांव की सेविका, शिक्षक व स्वास्थ्य विभाग के कर्मी पर बेवजह दवा खिलाने के आरोप लगाए। मामले की जानकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. गुफरान आलम एवं डीएमओ डॉ. केके सिंह को दी गई। टीम एंबुलेंस लेकर गांव पहुंची। वहीं, ग्रामीणों ने प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी और डीएमओ का घेराव कर दिया। कहा कि जब तक बच्चे ठीक नहीं हो जाते, तब तक डॉक्टरों की टीम को गांव में ही रहना पड़ेगा। वहीं, बच्चों की तबीयत ठीक होने तक एंबुलेंस भी यही रहेगी। इस दौरान हंगामा के बीच डॉक्टरों की टीम ने जिन बच्चों की तबीयत बिगड़ी थी, उनका चेकअप भी किया। डॉक्टरों के चेकअप से पता चला कि सारे बच्चे ठीक-ठाक हैं। इसके बाद रात करीब 10 बजे ग्रामीणों ने चिकित्सकों को जाने दिया। हालांकि ग्रामीणों की मांग पर एम्बुलेंस को गांव में ही रखा गया और अगले दिन सुबह एम्बुलेंस को जाने दिया।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें