ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडजमना ऑटो कंपनी के खिलाफ जेबीकेएसएस, बीजेपी और बिरसा सेना ने खोला मोर्चा, धरने पर बैठे लोग

जमना ऑटो कंपनी के खिलाफ जेबीकेएसएस, बीजेपी और बिरसा सेना ने खोला मोर्चा, धरने पर बैठे लोग

बता दें कि पिछले पांच दिनों से हथियाडीह गांव बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले जेबीकेएसएस के सदस्य धरने पर बैठे थे। हालांकि बुधवार को ग्रामीणों की आड़ में राजनीति बढ़ गयी और मामला और गरमा गया।

जमना ऑटो कंपनी के खिलाफ जेबीकेएसएस, बीजेपी और बिरसा सेना ने खोला मोर्चा, धरने पर बैठे लोग
Aditi Sharmaहिंदुस्तान,आदित्यपुरThu, 30 Nov 2023 09:16 AM
ऐप पर पढ़ें

औद्योगिक क्षेत्र के हथियाडीह में जमना ऑटो का ड्रीम प्रोजेक्ट खटाई में पड़ता दिख रहा है। बुधवार को ग्रामीणों के समर्थन में कंपनी के खिलाफ जेबीकेएसएस, बीजेपी और बिरसा सेना ने प्रदर्शन किया, जिससे काम पूरी तरह से बंद हो गया। वहीं, आंदोनलकारी डटे रहे।

विदित हो कि जियाडा द्वारा जमना ऑटो को उद्योग लगाने के लिए 13.50 एकड़ जमीन आवंटित की गयी है। पिछले दिनों त्रिस्तरीय वार्ता में कंपनी प्रबंधन ने ग्रामीणों की मांग पर 1.50 एकड़ जमीन खेल मैदान के रूप में विकसित करने का भरोसा दिया था। उसके बाद कंपनी ने अपना काम शुरू किया। इधर, मामला एकबार फिर से गहरा गया है।

पांच दिनों से धरना पर समिति

बता दें कि पिछले पांच दिनों से हथियाडीह गांव बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले जेबीकेएसएस के सदस्य धरना पर बैठे थे। हालांकि, इस दौरान ग्रामीण और जेबीकेएसएस रास्ता की मांग कर रहे थे, पर बुधवार को ग्रामीणों की आड़ में राजनीति बढ़ गयी। सबसे पहले भाजपा नेता रमेश हांसदा धरना स्थल पहुंचे और जेबीकेएसएस के साथ ग्रामीणों की मांगों को अपना समर्थन दिया। भाजपा नेता ने स्थानीय विधायक और सूबे के मंत्री चंपई सोरेन और झामुमो के खिलाफ निशाना साधा।

झामुमो नेताओं पर कंपनी के समर्थन में काम करने का आरोप भी लगाया। इधर, ग्रामीणों को बिरसा सेना ने समर्थन करने की घोषणा करते हुए धरना स्थल पर पहुंच सरकार और जिला प्रशासन के विरोध में मोर्चा खोल दिया है। वहीं, पुलिस-प्रशासन प्रदर्शनकारियों को समझाने में जुटे रहे। पूरे दिन दो थानों की पुलिस, गम्हरिया सीओ, जियाडा और आंदोलनकारी आमने-सामने डटे रहे, पर शाम तक निष्कर्ष नहीं निकला। सूचना मिलते ही देर शाम एसडीओ, डीएसपी हेडक्वार्टर भी मौके पर पहुंचे और आगे की रणनीति बनाने में जुट गए।

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें