DA Image
हिंदी न्यूज़   ›   झारखंड  ›  नेपाल के भूस्खलन में जमशेदपुर के युवा इंजीनियर की मौत, दस भारतीय कामगार बहे
झारखंड

नेपाल के भूस्खलन में जमशेदपुर के युवा इंजीनियर की मौत, दस भारतीय कामगार बहे

पोटका (जमशेदपुर) संवाददाताPublished By: Yogesh Yadav
Thu, 17 Jun 2021 10:45 PM
नेपाल के भूस्खलन में जमशेदपुर के युवा इंजीनियर की मौत, दस भारतीय कामगार बहे

नेपाल में हुए भूस्खलन में पूर्वी सिंहभूम के हल्दीपोखर के युवा इंजीनियर कमलोचन महतो (32) की मौत हो गई। घटना 15 जून रात लगभग 8 बजे घटी। कमललोचन भारत के प्रेसेजियन इन्फ्राटेक लिमिटेड(पीआईएल) में मुख्य अभियंता के पद पर कार्यरत थे। यह कंपनी  नदियों पर बांध बनाकर हाइड्रोइलेक्ट्रिक उत्पादन के लिए काम करती है। कंपनी का इन भारत और नेपाल में चल रहा है।

जानकारी के मुताबिक, घटना के समय कमललोचन अपने अधीनस्थ  कर्मचारियों के साथ नेपाल के सिंधुपाल चौक, हेलांबु, अंबाथान में मेलाम्चि नारायण नदी पर हाइड्रोइलेक्ट्रिक पावर का काम कर रहे थे। इसी दौरान अचानक भूस्खलन हुआ और 10 भारतीय इसकी चपेट में आकर बह गए। इनमें काफी प्रयास कर सात लोगों को जिंदा निकाला गया, जबकि तीन की मौत हो गई।

तीन मृतकों में कमललोचन महतो भी शामिल हैं। दुर्घटना की सूचना कमललोचन के परिवार को पीआईएल कंपनी द्वारा बुधवार देर रात दी गई। घर में मां छविला महतो, भैया राजीव एवं उदित हैं। कमललोचन कुंवारा था। कुछ वर्ष पूर्व उनके पिता डॉ. त्रिलोचन महतो का देहांत हो चुका है। कमललोचन के शव के शुक्रवार तक  हल्दीपोखर पहुंचने की उम्मीद है। परिजनों के मुताबिक, कमललोचन के कार्य की प्रशंसा नेपाल के प्रधानमंत्री केपी शर्मा ओली कर चुके हैं। 

संबंधित खबरें