ट्रेंडिंग न्यूज़

अगला लेख

अगली खबर पढ़ने के लिए यहाँ टैप करें

Hindi News झारखंडहारकर भी हीरो बन गए जयराम महतो, झारखंड में NDA और 'इंडिया' के लिए क्यों खतरे की घंटी

हारकर भी हीरो बन गए जयराम महतो, झारखंड में NDA और 'इंडिया' के लिए क्यों खतरे की घंटी

Jairam Mahto: झारखंड की राजनीति में जयराम महतो के उदय से आजसू और झामुमो के लिए खतरे की घंटी बज गई है। अबतक स्थानीय वोटों पर इन्हीं दो पार्टियों का कब्जा रहता था।

हारकर भी हीरो बन गए जयराम महतो, झारखंड में NDA और 'इंडिया' के लिए क्यों खतरे की घंटी
Devesh Mishraगंगेश गुंजन,धनबादWed, 05 Jun 2024 01:11 PM
ऐप पर पढ़ें

Jairam Mahto: लोकसभा चुनाव में झारखंड की राजनीति में एक नए चेहरे ने अपनी दमदार उपस्थिति दर्ज की है। गिरिडीह लोकसभा सीट से हारने के बावजूद जयराम महतो झारखंड की राजनीति में नए हीरो बनकर सामने आए हैं। गिरिडीह से चुनाव लड़ रहे झारखंडी भाषा संघर्ष समिति (जेबीकेएसएस) के जयराम महतो ने 3 लाख 47 हजार 322 वोट लाकर यह साबित कर दिया कि झारखंड की राजनीति में आने वाले समय में वे बड़ा उलटफेर करने वाले हैं।

हारकर भी हीरो बन गए जयराम महतो
गिरिडीह लोकसभा सीट पर एक बार फिर से आजसू के उम्मीदवार चंद्रप्रकाश चौधरी ने जीत दर्ज की। उन्होंने झामुमो उम्मीदवार मथुरा प्रसाद महतो को 80,880 वोटों से हराया। यहां जयराम महतो तीसरे नंबर पर रहे, लेकिन उन्होंने हर राउंड में शानदार प्रदर्शन कर सभी छह विधानसभा में अच्छी उपस्थिति दर्ज की। जयराम महतो को 3 लाख 47 हजार 322 वोट मिले। उनके वोट की चर्चा पूरे झारखंड में हो रही है। जयराम के वोट से यह तय हो गया कि आने वाले समय में वे झारखंड की राजनीति में मजबूत पकड़ रखने वाले हैं। जयराम महतो की दमदार उपस्थिति का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि वे मथुरा महतो से मात्र 23 हजार वोटों से ही पीछे रह गए।

NDA और 'इंडिया' के लिए क्यों खतरे की घंटी
झारखंड की राजनीति में जयराम महतो के उदय से आजसू और झामुमो के लिए खतरे की घंटी बज गई है। अबतक स्थानीय वोटों पर इन्हीं दो पार्टियों का कब्जा रहता था, लेकिन अब जयराम महतो के रूप में एक तीसरा मजबूत विकल्प झारखंड में सामने आ गया है। दरअसल, एनडीए गठबंधन के तहत गिरिडीह सीट आजसू पार्टी के हिस्से आई थी। वहीं 'इंडिया' गठबंधन के तहत झामुमो को यह सीट मिली। ऐसे में जयराम को मिले बंपर वोटों से एनडीए और 'इंडिया' के लिए भी खतरे की घंटी बज गई है।

विधानसभा चुनाव में बड़ा फैक्टर बनेंगे जयराम
जयराम महतो ने गिरिडीह, धनबाद, हजारीबाग, रांची और कोडरमा सीट पर दमदार उपस्थिति दर्ज कर यह साबित कर दिया कि झारखंड में इस साल प्रस्तावित विधानसभा चुनाव में वे बड़ा फैक्टर बनने वाले हैं। खासकर कुर्मी बहुल सीटों पर जयराम फैक्टर काम करेगा। इसकी बानगी लोकसभा चुनाव में दिख गई है।

जयराम के प्रत्याशियों ने भी किया शानदार प्रदर्शन
जयराम महतो की पार्टी जेबीकेएसएस पूरे झारखंड में आठ सीटों पर चुनाव लड़ रही थी। गिरिडीह, हजारीबाग, धनबाद और रांची में जयराम महतो की पार्टी ने शानदार उपस्थिति दर्ज कराई है।

जेबीकेएसएस के उम्मीदवार और मत

गिरिडीह: जयराम महतो- 347322

रांची: दवेंद्रनाथ महतो- 132647

हजारीबाग: संजय मेहता- 157977

चतरा: दीपक गुप्ता- 12566

सिंहभूम: दामोदर सिंह- 44292

दुमका: बेनीलता टुडू- 19360

धनबाद: इकलाक अंसारी- 79653

कोडरमा: मनोज यादव- 28310