DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

सरकार का काम नहीं है मंदिर बनाना : शंकराचार्य

 शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती

चाईबासा में जगतगुरु शंकराचार्य स्वामी स्वरूपानंद सरस्वती ने कहा कि राम मंदिर निर्माण के लिए अध्यादेश लेन की कोई जरूरत नहीं है। वहां मस्जिद थी ही नहीं। साथ ही उन्होंने राम मंदिर के पास मस्जिद के लिए भूखंड आवंटित करने के प्रस्ताव का भी विरोध किया। शंकराचार्य चाईबासा स्थित रुंगटा गार्डन में अपने प्रवास के दौरान पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे।

सरकार द्वारा राममंदिर का निर्माण नहीं कराए जाने के बाबत पूछे जाने पर उन्होंने कहा कि सरकार मंदिर, मस्जिद,और गुरुद्वारा का निर्माण नही कर सकती। यह धर्मनिरपेक्ष देश है। सरकार बनने पर संविधान की शपथ ली जाती है। मंदिर बनाना साधु संतों का काम है। उन्होंने गो हत्या बंद नहीं कराने और गो मांस का निर्यात नहीं रोकने के प्रधानमंत्री को आड़े हाथों लिया। कहा कि देश नोटबन्दी, महंगाई से परेशान है। किसान आत्महत्या कर रहे हैं। ऐसे में लोगो का ध्यान हटाने के लिए सरकार शहरों का नाम बदल रही है।

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:its not govt duty to make temple said Jagatguru Shankaracharya Swami roopananda Saraswati