DA Image

अगली स्टोरी

class="fa fa-bell">ब्रेकिंग:

झारखंड: मछली मारने के विवाद में दो गांवों के लोगों में चले तीर, आठ लोग घायल

tribals attacked more than six people from arrows tense for land dispute in tea plantation in thakur

तालाब में मछली मारने के विवाद में सोमवार को दो गांवों के लोगों के बीच जमकर बवाल हुआ। बगोदर थाना क्षेत्र के मुंडरो पंचायत के टोला भूनियाटांड और अड़वारा पंचायत के टोला बेलगांय के लोगों में मारपीट, पत्थरबाजी और लाठी-डंडे चलने के साथ तीरों से हमला किया गया। इसमें दोनों पक्षों के आठ लोग घायल हो गए। सूचना के बाद मौके पर पहुंची बगोदर पुलिस ने मामले को शांत कराया। दोनों पक्षों ने बगोदर थाने में एक-दूसरे के खिलाफ आवेदन दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। घायलों में एक पक्ष के लालजीत महतो, विलास महतो, शंकर महतो सहित पांच लोग हैं, जबकि दूसरे पक्ष के लाखों टुडू, अर्जुन हेम्ब्रम, सुभाष मुर्मू, कौशल्या देवी आदि हैं। घायलों को बगोदर सीएचसी में भर्ती कराया गया है। 

भुनियाटांड और बेलगांय की सीमा पर तरिया तालाब है। इसी तालाब में भूनियाटांड के ग्रामीण मछली मारने पहुंचे थे। इसकी सूचना मिलने पर बेलगांय के भी ग्रामीण पहुंच गए। मछली मारने के सवाल को लेकर पहले तू-तू, मैं-मैं हुई, फिर मारपीट होने लगी। बेलगांय के लोगों का कहना है कि उक्त तालाब में आधा हिस्सा हमलोगों का है। तालाब के बीचोंबीच स्थित पत्थर को सीमांकन बताया जा रहा है। दूसरी तरफ, भूनियाटांड के ग्रामीणों का कहना है कि 11 हिस्सेदार मिलकर जमीन खरीदने के बाद तालाब बनाकर मछली पालन कर रहे हैं। बेलगांय के ग्रामीणों पर पांच क्विंटल मछली लूटने का भी आरोप है। भूनियाटांड पक्ष से लालजीत महतो ने आवेदन दिया गया है, जबकि दूसरे पक्ष के घायलों का इलाज देर शाम तक अस्पताल में चल रहा था। 
 

  • Hindi Newsसे जुडी अन्य ख़बरों की जानकारी के लिए हमें पर ज्वाइन करें और पर फॉलो करें
  • Web Title:In the dispute over fishing villagers attacked each other by arrows in Jharkhand eight people injured