DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › हजारीबाग में झुंड से बिछड़े हाथी का उत्पातः 24 घंटे में चार को कुचलकर मार डाला
झारखंड

हजारीबाग में झुंड से बिछड़े हाथी का उत्पातः 24 घंटे में चार को कुचलकर मार डाला

हजारीबाग निज प्रतिनिधिPublished By: Yogesh Yadav
Mon, 11 Oct 2021 10:30 PM
हजारीबाग में झुंड से बिछड़े हाथी का उत्पातः 24 घंटे में चार को कुचलकर मार डाला

हजारीबाग जिले में पिछले 24 घंटे में एक बिरहोर पुरुष समेत चार लोगों को झुंड से बिछड़े हाथी ने मार दिया। सोमवार की शाम सात बजे सदर प्रखंड  के डेमोटांड़ के डेमोटा़ड़ के बिरहोर टांडा में महावीर बिरहोर (45) पिता जगदीश बिरहोर को कुचल कर मार डाला। इस हमले में उसकी पत्नी सोमरी बिरहोरिन भी घायल हो गयी है। वन विभाग ने इलाज के लिए तत्काल 25 हजार रुपए मुहैया करवाया है।

इधर रविवार की रात  कटकमदाग प्रखंड के अडरा और ढेंगुरा पंचायत में रविवार को जंगली हाथी ने दो महिला सहित तीन को कुचलकर मार डाला। मृतक में अडरा पंचायत के कुबा गांव निवासी कृति कुजूर 35 (वर्ष) पति लेंदर टोप्पो ,चीची निवासी सावित्री देवी 35 (वर्ष) पति विराज गंझू और मांडू थना क्षेत्र के बलसगरा निवासी विशुन रविदास 59 (वर्ष) शामिल हैं। 

घटना रविवार की देर शाम उस समय हुई जब यह दोनों महिलाएं कई अन्य साथियों के साथ बानादाग साप्ताहिक बाजार से सब्जी और बच्चों के लिए मिठाई लेकर अपने घर लौट रही थी। तभी कृति कुजूर को कुबा मंदिर के पास और सावित्री देवी को कुबा कब्रिस्तान के पास हाथियों ने चपेट में ले लिया और पटक कर मार डाला। अन्य लोगों ने भाग कर अपनी जान बचाई। 

इस दौरान हाथी ने रामेश्वर राम और मंटू यादव के घर को क्षतिग्रस्त कर दिया। जबकि सुरेश महतो के घर के सामने लगे गेट को भी तोड़ दिया। अडरा पंचायत में घटना के बाद हाथी सिरसी गांव पहुंचे जहां पर सिरसी नदी के पास विशुन रविदास को भी कुचलकर मार डाला। वह रामगढ़ जिला मांडू थाना के बलसगरा गांव का रहने वाला था और सिरसी गांव में किराए के मकान में रहकर मजदूरी का काम करता था। कुबा चीची के ग्रामीणों के अनुसार, हाथी बड़कागांव के चेपा जंगल की ओर से अडरा पहुंचा और घटना को अंजाम दिया।

पश्चिमी क्षेत्र प्रमंडल डीएफओ रविन्द्रनाथ मिश्रा के अनुसार मृतक के परिजनों को चार- चार लाख रुपए मुआवजा के तौर पर दिया जायेगा। इसके लिए तीन जरूरी प्रमाण पत्र विभाग को देना अनिवार्य होगा। इनमें थाना की प्राथमिकी रिपोर्ट की प्रति,पोस्टमार्टम रिपोर्ट और अंचल कार्यालय से निर्गत उतराधिकारी प्रमाण पत्र शामिल है। अभी फिलहाल अंतिम संस्कार के लिए 25-25 हजार रुपए दिए गए हैं।

संबंधित खबरें