ट्रेंडिंग न्यूज़

Hindi News झारखंडयह बैंक नहीं! कांग्रेस सांसद से जुड़े ठिकानों पर छापेमारी, करीब 150 करोड़ मिला कैश; गिनते-गिनते मशीन खराब

यह बैंक नहीं! कांग्रेस सांसद से जुड़े ठिकानों पर छापेमारी, करीब 150 करोड़ मिला कैश; गिनते-गिनते मशीन खराब

Dheeraj Sahu Cash: कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू के रांची और लोहरदगा स्थित आवास समेत 5 ठिकानों पर बुधवार को आयकर विभाग की टीम ने छापेमारी की। ओडिशा स्थित एक ठिकाने से 150 करोड़ कैश मिला।

यह बैंक नहीं! कांग्रेस सांसद से जुड़े ठिकानों पर छापेमारी, करीब 150 करोड़ मिला कैश; गिनते-गिनते मशीन खराब
Sudhir Jhaअखिलेश सिंह,रांचीThu, 07 Dec 2023 10:46 PM
ऐप पर पढ़ें

कांग्रेस के राज्यसभा सांसद धीरज साहू के रांची, लोहरदगा और ओडिशा स्थित ठिकानों पर आयकर विभाग की छापेमारी लगातार दूसरे दिन गुरुवार को भी जारी रही। न्यूज एजेंसियों के मुताबिक दबिश के दौरान करीब 100 से 150 करोड़ के बीच नकदी मिली है। आयकर सूत्रों की मानें तो विभाग ने यह राशि धीरज साहू और उनके परिजनों की शराब निर्माता समूह बलदेव साहू एंड ग्रुप ऑफ कंपनीज के बालांगीर कार्यालय से छापेमारी के दौरान बरामद किए। 

बता दें कि धीरज साहू के पांच ठिकानों पर बुधवार को आयकर विभाग ने दबिश दी थी। पहले दिन तकरीबन 50 करोड़ नकदी मिलने की सूचना थी। बताया जा रहा है कि गुरुवार देर शाम तक संख्या 100 करोड़ को पार कर गई। सूत्रों के अनुसार गुरुवार रात तक नोटों की गिनती जारी थी। न्यूज एजेंसी के मुताबिक नोटों की गिनती के दौरान नोट गिनने वाली मशीन के भी खराब होने की सूचना है। इधर, राज्यसभा सांसद धीरज साहू से इस बारे में उनका पक्ष जानने के लिए संपर्क करने का प्रयास किया गया तो उनके मोबाइल बंद मिले। 

इससे पहले बुधवार को आयकर टीम ने बौध डिस्टिलरीज प्राइवेट लिमिटेड और इससे जुड़े परिसरों में छापेमारी की थी। बलदेव साहू एंड ग्रुप ऑफ कंपनीज, बौध डिस्टलरी प्राइवेट लिमिटेड की एक पार्टनरशिप फर्म है। इस ग्रुप के कई कारोबार हैं, जिसमें क्वालिटी बोटलर्स प्राइवेट लिमिटेड (आईएमएफएल बोटलिंग), किशोर प्रसाद विजय प्रसाद बिवरेज प्राइवेट लिमिटेड (जो आईएमएफल कंपनी की सेल्स एंड मार्केटिंग का काम करती है), बलदेव साहू इंफ्रा प्राइवेट लिमिटेड  आदि शामिल हैं। आयकर विभाग ने बौध डिस्टलरी प्राइवेट लिमिटेड के भुवनेश्वर के पालासपल्ली स्थित कॉर्पोरेट कार्यालय व वहां कंपनी में काम करने वाले अधिकारियों के यहां भी छापेमारी की। 

इसके अलावा बौध रामचिकाता और राणीसती राइस मिल में भी आयकर टीम पहुंची। आयकर विभाग ने बालांगीर के सुदापाड़ा और तितिलागढ़ शहर के दो शराब व्यापारियों के आवासों पर भी एक साथ छापेमारी की। यहां भी भारी मात्रा में नकद मिले। इसके बाद आयकर विभाग की टीम ने ट्रक में भरकर नकदी के थैले और बोरियां भारतीय स्टेट बैंक की बोलांगीर शाखा लेकर पहुंची। वह सारा पैसा बैंक के अंदर ले जाया गया और कड़ी सुरक्षा में जमा किया गया। सूत्रों के अनुसार ओडिशा के तितिलागढ़ में दो अन्य शराब कारोबारी दीपक साहू और संजय साहू के घरों पर भी तलाशी ली गई। इन पर भी आयकर चोरी का आरोप है। 

एजेंसियों को दो बातों का है संदेह
बलदेव साहू एंड ग्रुप आफ कंपनी की डिस्टिलरी ओडिशा में हैं। इसी डिस्टिलरी से शराब की आपूर्ति दक्षिणी ओडिशा में होती है। एजेंसियों को शक है कि डिस्टिलरी से शराब की निर्माण व आपूर्ति में राजस्व की भारी मात्रा में चोरी हुई है। वहीं दूसरी तरफ छत्तीसगढ़ में चुनाव के बाद पैसे वापस भेजे जाने की भी चर्चा है। 

ओडिशा में एक ठिकाने पर आलमीरा में रखे हुए थे कैश
जानकारी के अनुसार आयकर की टीम को ओडिशा के बोलांगीर में बुधवार को छापेमारी के दौरान एक आलमीरा मिला, जो नोटों से भरा हुआ था। बुधवार देर रात ही नोटों की गिनती शुरू कर दी गई थी। बुधवार देर रात तक विभाग ने करीब 50 करोड़ रुपये के नोटों की गिनती की थी, लेकिन न्यूज एजेंसियों के मुताबिक गुरुवार देर शाम तक संख्या 150 करोड़ को पार कर गई। सूत्रों के अनुसार गुरुवार रात तक नोटों की गिनती जारी थी। नोटों की गिनती के दौरान नोट गिनने वाली मशीन के भी खराब होने की सूचना है। 

हिन्दुस्तान का वॉट्सऐप चैनल फॉलो करें