DA Image
हिंदी न्यूज़ › झारखंड › गर्लफ्रेंड को गिफ्ट ने कराया हीरापुर डकैतीकांड का खुलासा, नालंदा जेल में है मास्टरमाइंड मुन्ना
झारखंड

गर्लफ्रेंड को गिफ्ट ने कराया हीरापुर डकैतीकांड का खुलासा, नालंदा जेल में है मास्टरमाइंड मुन्ना

धनबाद मुख्य संवाददाताPublished By: Yogesh Yadav
Wed, 13 Oct 2021 08:26 PM
गर्लफ्रेंड को गिफ्ट ने कराया हीरापुर डकैतीकांड का खुलासा, नालंदा जेल में है मास्टरमाइंड मुन्ना

हीरापुर जेसी मल्लिक अभया अपार्टमेंट डकैती कांड में एक मोबाइल ने पुलिस को सफलता दिलाई। सागर सेन के घर से लूटे गए इस मोबाइल को देवरिया खामपार थाना क्षेत्र के कुकुरघाटी के मुन्ना यादव ने अपनी गांव की गर्लफ्रेंड को दे दिया था। जैसे ही मुन्ना की माशूका ने फोन का प्रयोग किया और पुलिस को भनक लग गई। इसी सुराग से कानून के हाथ डकैतों के गिरेबान तक पहुंचे। 

डकैती के 11 दिन बाद मुन्ना की गर्लफ्रेंड ने लूट के मोबाइल में दूसरा सिम डाल कर इसे 15 से 18 सितंबर तक प्रयोग किया। धनबाद पुलिस मोबाइल को आईएमईआई नंबर से ट्रैक कर रही थी। पुलिस को जैसे ही मोबाइल प्रयोग होने की जानकारी मिली, पुलिस के कान खड़े हो गए। धनबाद पुलिस की टीम देवरिया पहुंची। मुन्ना की माशूका के पास मोबाइल जब्त होने के बावजूद मुन्ना यादव पुलिस को बरगला रहा था। लंबी पूछताछ के बाद मुन्ना ने डकैती में शामिल होने का राज खोला और अपने बाकी साथियों के नाम उगले।

डकैती के माल की गुत्थी नहीं सुलझी

दशहरा के बाद धनबाद पुलिस की टीम बिहार के नालंदा और यूपी के देवरिया जाएगी। हरनौत डकैतीकांड में योगेंद्र महतो उर्फ अजय चौहान उर्फ मास्टर नालंदा जेल में बंद है। वहीं देवरिया में गांजा के साथ पकड़े जाने के कारण मुन्ना यादव देवरिया जेल में है। न्यायालय से आदेश लेकर दोनों आरोपियों को प्रोडक्शन वारंट पर धनबाद लाया जाएगा। उन्हें पुलिस रिमांड पर लेकर पूछताछ की जाएगी। डकैती कांड के उद्भेदन के बावजूद पुलिस लाखों रुपए के गहनों के संबंध में जानकारी नहीं जुटा पाई है। धनबाद पुलिस ने इस मामले में बोकारो से रामजी साव को भी गिरफ्तार किया है। रामजी ने गहने कहां बेचे, इसकी जानकारी नहीं दे रहा है। इधर पुलिस कांड में शामिल देवरिया निवासी मुन्ना यादव के चचेरे भाई भोला यादव और देवव्रत यादव के अलावा बोकारो के प्रकाश व राजू को खोज रही है।

मास्टर के पुराने शागिर्दों की तलाश

मास्टर 2004 में धनबाद में जिला परिषद कॉलोनी में प्रभाषचंद्र मंडल, 2003 में डीजीएमएस कॉलोनी में सुधीर कुमार और 2006 में हाउसिंग कॉलोनी में विशाल दीक्षित के घर हुई डकैती कांडों में जेल जा चुका है। अंतरराज्यीय गैंग का सरगना योगेंद्र महतो उर्फ मास्टर को 16 जुलाई की रात हरनौत में बाइक शोरूम के मालिक के घर हुई डकैती मामले में बिहार पुलिस ने पकड़ा था। उसके खिलाफ धनबाद के अलावा रांची, पटना, गोपालगंज, गया, कहलगांव, सिवान, सारण और हरनौत थाना में डकैती के मामले दर्ज हैं। पुरानी फाइल के आधार पर पुलिस मान रही है मास्टर के धनबाद में कई शागिर्द हैं।

संबंधित खबरें